अब कांग्रेस लाई मतदाता सूची घोटाला, सत्तारूढ़ दल पर लगाए आरोप

asif siddiqui

Publish: Feb, 15 2018 07:00:00 PM (IST)

Ashoknagar, Madhya Pradesh, India
अब कांग्रेस लाई मतदाता सूची घोटाला, सत्तारूढ़ दल पर लगाए आरोप

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को लिखा पत्र, खामियां बताते हुए डुप्लीकेट नामों को हटाने और इसके लिए दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई करने की मांग

अशोकनगर। मुंगावली विधानसभा उप चुनाव को लेकर क्षेत्र में राजनीति चरम पर है। दोनों ही दल चुनाव जीतने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा रहे हैं। ऐसे में कांग्रेस ने मतदाता सूची में घोटाले का आरोप लगाते हुए सत्तारूढ़ दल को घेरना शुरू कर दिया है। उप चुनाव में फर्जी मतदान की आशंका जताते हुए कांग्रेस ने मतदाता सूची में गड़बड़ी की शिकायत मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से कर दी है। पार्टी का आरोप है कि मतदाता सूची में एक ही व्यक्ति के दो से तीन जगह नाम हैं और फोटो गलत लगे हैं। इसका सीधा अर्थ है कि सत्तारूढ़ दल ने उप चुनाव में फर्जी मतदान की योजना बनाई है।

निर्वाचन अधिकारी को लिखा पत्र
कांग्रेस के प्रवक्ता जेपी धनोपिया, रवि सक्सेना, पंकज चतुर्वेदी, दुर्गेश शर्मा, सैयद साजिद अली, शानू कुरैशी, असद उद्दीन खान के प्रतिनिधि मंडल ने इस संबंध में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को पत्र लिखा है। जिसमें बताया गया है कि चुनाव अधिकारी द्वारा कांग्रेस प्रत्याशी को मतदान के संबंध में जो मतदाता सूची सीडी के माध्यम से उपलब्ध कराई गई है, उसमें बहुत सारी अनियमितताएं दिखाई दे रही हैं। जिसमें एक ही मतदाता का नाम एक से अधिक मतदान केन्द्रों पर दर्ज है, एक ही मतदाता को फोटो भी दो से तीन जगहों पर है। कांग्रेस ने ऐसे हजारों मामले होने की बात कही है।

फोटो भी गलत
पार्टी ने नामों के अलावा फोटो भी गलत होने की बात कही है। पत्र में बताया गया है कि मतदाता सूची में सात-आठ साल के बच्चे का फोटो लगा है और उसकी उम्र 31 साल लिखी हुई है। इसी प्रकार 24-25 साल की युवती का फोटो है और उम्र 70-71 वर्ष लिखी है। साथ ही सैंकड़ों पात्र मतदाताओं के नाम भी मतदाता सूची से विलोपित करा दिए जाने की बात भी पत्र में है।

डबल, ट्रिपल नाम हटाने और दंडात्मक कार्रवाई की मांग
पार्टी ने इसे मतदाता सूची घोटाला बताते हुए इसमें प्रशासनिक स्तर पर शामिल अधिकारियों, कर्मचारियों व भाजपा नेताओं की जांच करवाकर दोषी पाए जाने वालों के विरुद्ध दंडात्मक कार्रवाई करने की मांग की है। साथ ही दो से तीन जगह जिन मतदाताओं के नाम हैं उन्हें तत्काल हटाया हटाने की मांग भी की गई है।

1
Ad Block is Banned