अब वे कहां जाकर नारियल फोड़ेगे: पवैया

अब वे कहां जाकर नारियल फोड़ेगे: पवैया
Ashoknagar, New Agricultural Produce Market, Shilanyas,

praveen praveen | Publish: Jun, 24 2017 11:47:00 PM (IST) ashoknagar

अशोकनगर. मुझे दुख है कि अब एक नेता एक साल के लिए बेरोजगार हो गया है। अब वे कहां जा कर नारियल फोड़ेंगे। यह बात जिले के प्रभारी मंत्री जयभान सिंह पवैया ने नवीन कृषि उपज मंडी के शिलान्यास कार्यक्रम में सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधते हुए कही।

अशोकनगर. मुझे दुख है कि अब एक नेता एक साल के लिए बेरोजगार हो गया है। अब वे कहां जा कर नारियल फोड़ेंगे। यह बात जिले के प्रभारी मंत्री जयभान सिंह पवैया ने नवीन कृषि उपज मंडी के शिलान्यास कार्यक्रम में सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधते हुए कही।

उन्होंने कहा कि आज यहां केवल कृषि उपज मंडी का ही नहीं बल्कि 207 करोड़ रुपए के 46 कार्यों का शिलान्यास एवं 53 कार्यों का लोकार्पण किया गया है। अब उनके करने के लिए कुछ नहीं बचा। लोग तो 10-10 लाख रुपए के कार्यों में भी ढोल बजा देते हैं। वे यहीं नहीं रुके उन्होंने कहन कि फर्जी महाराजाओं ने अशोकनगर-गुना और शिवपुरी की जनता को मूर्ख बनाया है। उन्हें शर्म नहीं आती वे अकेले जाकर नारियल फोड़ देते हैं। जबकि अभी राज्य व केंद्र दोनों में बीजेपी की सरकार है और विकास कार्यों का पैसा वहीं से आता है।
आगे उन्होंने कहा कि हमने तो अपनी नैतिकता दिखाई शिलान्यास पट्टिका पर सांसद का नाम लिखा हुआ है। लेकिन कार्यक्रम में न तो वे आए और न ही उनके दोनों दरबान। दरबान से उनका मतलब मुंगावली विधायक महेंद्र सिंह कालूखेड़ा एवं चंदेरी विधायक गोपाल सिंह चौहान से था। उन्होंने कहा कि ऐसे काम तो मंथरा करती थी जो जरा-जरा सी बात पर रूठ कर बैठ जाती थी। इस दौरान विधायक गोपीलाल जाटव, पूर्व विधायक जगन्नाथसिंह रघुवंशी, नीलमसिंह यादव व लड्डूराम कोरी, नपाध्यक्ष सुशीला साहू, जिपं अध्यक्ष बाईसाहब यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं संभागायुक्त एसएन रूपला, कलेक्टर बीएस जमौद आदि उपस्थित रहे।
कोई रात में आएगा और नारियल फोड़ जाएगा

सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा किए जानेवाले लोकार्पण-शिलान्यास कार्यक्रमों को लेकर पवैया ने एक बार फिर उन्हें आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि लोक निर्माण मंत्री रामपाल सिंह ने दो चार दिन बाद का कह रहे थे, लेकिन मैंने कहा कि भैया यहां का कोई भरोसा नहीं है कब कोई रात में आएगा और नारियल फोड़ जाएगा। अब तो जो तारीख डिसाइड हो गई है उसी में चलते हैं।

सीएम का कार्यक्रम जारी कब हुआ
कार्यक्रम के दौरान प्रभारी मंत्री ने मंच से यह भी कहा कि सीएम का कार्यक्रम जारी कब हुआ था। मुख्यमंत्री कार्यालय का कोई लेटर बता दो, आपको किसने बताया कि मुख्यमंत्री का अशोकनगर में दौरा है। दौरा रद्द तब होता है जब कार्यक्रम जारी हो जाए, सीएम के यहां आने का कार्यक्रम तो जारी ही नहीं हुआ। जबकि जिला प्रशासन ने स्वयं प्रेस नोट जारी करके जिले में सीएम के भ्रमण की जानकारी दी थी और तीनों विधानसभाओं में उनके कार्यक्रम तय थे। तैयारियां भी उसी हिसाब से की जा रही थी। दौरा रद्द होने के बाद प्रशासन को आनन-फानन में नए सिरे से तैयारी करनी पड़ी। पीडब्ल्यूडी मंत्री रामपालसिंह ने सफाई देते हुए कहा कि सीएम को राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का नामांकन दाखिल करवाने जाना पड़ा, वहां वे कृषि मंत्री से मिले और किसानों की समस्याओं पर चर्चा की। उन्होंने जिले में लोक निर्माण विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों की जानकारी देते हुए बताया कि जिले में 14 पुल-पुलिया, 23 सड़कें एवं 52 भवन का निर्माण कार्य 1035 करोड़ रुपए की लागत से करवाया जा रहा है।

एक नया किसान पैदा हो गया है
किसान आंदोलन पर सांसद सिंधिया के सत्याग्रह पर भी कटाक्ष करते हुए प्रभारी मंत्री ने कहा कि प्रदेश में नया किसान पैदा हो गया है। उन्होंने हल की मूठ और रबी व खरीफ की फसल तक नहीं देखी होगी। सत्याग्रह के लिए पीछे किचिन बना लिया, नेताओं को मना-मना कर बुला लाए। यह महात्मा गांधी का नहीं मैडम सोनिया गांधी का सत्याग्रह था। उन्होंने राहुल गांधी और दिग्विजय सिंह पर भी कटाक्ष किए।

अब मैं सांसद से पूछकर फीता कटवाऊंगा क्या
नवीन कंपोजिट भवन के उदघाटन को लेकर भी प्रभारी मंत्री ने सांसद व कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि अब मैं सांसद से या कांग्रेस से पूछूंगा कि कलेक्ट्रेट का फीता कौन काटेगा। वह लोग मुख्यमंत्री को अशोकनगर आने का आमंत्रण दे रहे थे। पीडब्ल्यूडी मंत्री ने भी सांसद व कांग्रेस पर जमकर आड़े-हाथों लिया।

कंपोजिट भवन जनता के हवाले
लंबे इंतजार के बाद कंपोजिट भवन शनिवार को आमजन के हवाले हो गया है। इसमें एक ही छत के नीचे 30 विभाग संचालित होंगे। दोनों मंत्रियों ने फीता काटकर व पूजा अर्चना कर भवन का लोकार्पण किया। उन्होंने इसे प्रदेश का सबसे आधुनिक भवन बताते हुए कहा कि भविष्य में यह भवन जिले की पहचान बनेगा।

हितग्राहियों को हितलाभ वितरण
कार्यक्रम में प्रधानमंत्री फसल बीमा के तहत 05 किसानों, उद्यानिकी विभाग द्वारा दो हितग्राहियों को रूसेटनेट एवं पॉलीहाउस, राज्य बीमारी सहायता,कृषक कल्याण योजना सहित अन्य योजनाओं के हितग्राहियों को हित लाभ वितरित किए गए। इसके साथ ही 2017 में शिक्षा के क्षेत्र में नाम रोशन करने वाले मेधावी विद्यार्थियों का सम्मान भी किया गया और बच्चों को पुस्तकें वितरित की गईं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned