पत्ती समझ चाय में डाला कीटनाशक, पति-पत्नी की मौत और बेटा भर्ती

एक साथ उठी पति-पत्नी की अर्थी, राज्यमंत्री ने अपनी धन्यवाद सभा निरस्त कर दिया अर्थी को कंधा।

By: brajesh tiwari

Published: 21 Nov 2020, 07:35 PM IST

अशोकनगर. छोटी सी लापरवाही दो लोगों की मौत का कारण बन गई। सुबह चाय की पत्ती समझकर चाय में गलती से महिला ने कीटनाशक डाल दिया। इस चाय को पीने से पति-पत्नी की मौत हो गई तो वहीं उनके पुत्र को चक्कर आने लगे तो अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घर से एक साथ दो अर्थियां उठने से मोहल्ले का माहौल गमगीन हो गया।
मामला शनिवार सुबह मुंगावली के कछियाना मोहल्ले का है। 65 वर्षीय कोमलबाई सेन ने सुबह चाय बनाते समय गलती से कीटनाशक डाल दिया। इस चाय को कोमलबाई व उनके पति 70 वर्षीय श्रीकिशन सेन और बेटे जितेंद्र ने पी लिया। श्रीकिशन सेन चाय पीकर मंदिर जाने निकले तो मिडिल स्कूल के पास साइकिल से गिर गए। लोगों ने अस्पताल पहुंचाया तब तक उनकी मौत हो गई थी। वहीं उनकी पत्नी कोमलबाई की भी घर पर मौत हो गई। इसके बाद पुत्र जितेंद्र को भी चक्कर आने लगे, हालांकि उसने चाय कड़वी होने की वजह से पीकर उगल दी, इससे उसकी जान बच गई।

परिवार में हैं सात सदस्य, शेष ने नहीं पी चाय-
मृतक दंपत्ति के चार बेटे हैं और एक बेटे की शादी हो गई है। सुबह जब जितेंद्र को चाय कड़वी लगी तो उसने परिवार के अन्य लोगों से मना कर दिया। इससे अन्य लोगों की जान बच गई। लोगों का कहना है कि यदि वह भी उस जहरीली चाय को पी लेते तो अन्य लोगों की भी जान जाने की आशंका थी।

राज्यमंत्री ने धन्वाद सभा निरस्त कर दिया कंधा-
उपचुनाव में जीत पर राज्यमंत्री बृजेंद्रसिंह यादव का मुंगावली में विजय जुलूस और धन्यवाद सभा का कार्यक्रम था। लेकिन जब राज्यमंत्री को घटना की जानकारी मिली तो उन्होंने विजय जुलूस व धन्यवाद सभा को निरस्त कर दिया और पीडि़त परिवार के घर पहुंचे। जहां पर एक साथ दो अर्थियां निकलीं और राज्यमंत्री बृजेंद्रसिंह यादव ने दोनों अर्थियों को कंधा दिया।

वर्जन-
जहरीली चाय पीने से पति-पत्नी की मौत हो गई और उनके पुत्र की भी तबीयत बिगढ़ गई, हालांकि पुत्र अब स्वस्थ है। मर्ग कायम कर लिया है और मामले की जांच की जा रही है।
सोनपालसिंह तोमर, थाना प्रभारी मुंगावली

दोनो पति-पत्नी की जहरीली चाय पीने से मौत हुई है। वहीं उनका 30 वर्षीय पुत्र को भी चक्कर आने की वजह से भर्ती कराया गया था, हालांकि वह स्वस्थ है और उसे डिस्चार्ज कर दिया गया है।
डॉ.अमित पांडे, चिकित्सक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुंगावली

Show More
brajesh tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned