परिजन बोले-पुलिस की मिलीभगत से हुई लूट व हत्या, पुलिसकर्मी निलंबित

हत्या का मामला: मृतक के गलेे, सिर व पांव में मिले नुकीले हथियार के निशान, हत्या का प्रकरण दर्ज

By: Bharat pandey

Published: 11 Jan 2021, 12:12 AM IST

अशोकनगर। बकरी चराने गए व्यक्ति की जंगल में हत्या कर दी गई। जिसके गले, सिर व पैर में नुकीले हथियार के निशान मिले हैं। इस पर मृतक के परिजनों व रिश्तेदारों ने आरोप लगाया है कि पुलिस की मिलीभगत से लूट व हत्या हुई। साथ ही पुलिस पर अभद्रता करने और चौकी से भगाने के भी आरोप लगाए हैं। हालांकि पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज कर लिया है और एसपी ने महोली चौकी के प्रधान आरक्षक हरि सिंह तोमर को निलंबित कर दिया है।

पिपरोद निवासी 55 वर्षीय भज्जू पुत्र हमीर पाल 7 जनवरी को घर से 100 बकरियां लेकर चराने जंगल गया था। जिसका 9 जनवरी को जंगल में शव मिला। साथ ही मृतक की कुल्हाड़ी व पानी की बोतल भी पास में पड़ी मिलीं, लेकिन मोबाइल नहीं मिला। रविवार को जिला अस्पताल में मृतक के परिजनों व रिश्तेदारों की भीड़ लग गई, जिन्होंने शव लेने से इनकार कर दिया और आरोप लगाया कि पुलिस की मिलीभगत से ही उसकी बकरियां छीनी गईं व हत्या भी हुई। वह हत्या व लूट का प्रकरण दर्ज करने और महोली चौकी के चौकी प्रभारी पर कार्रवाई की मांग पर अड़ गए। बाद में अधिकारियों व पुलिस की समझाइश पर परिजन माने।

परिजन बोले-पुलिस की मिलीभगत से हुई लूट व हत्या, पुलिसकर्मी निलंबित

यह है आरोप बकरियां भी छीन ले गए आरोपी
मृतक के रिश्तेदार रणवीर और सत्यभान पाल ने बताया कि जब भज्जू घर नहीं पहुंचा तो तलाश की व शिकायत करने महोली चौकी पहुंचे, जहां चौकी प्रभारी व अन्य पुलिसकर्मी ने अभद्रता की और गालियां देकर भगा दिया व शिकायत भी दर्ज नहीं। इससे दो दिन तलाश की तो जंगल में शव मिला। उनका आरोप है कि आरोपी बकरियां भी मृतक से छीन ले गए। वाहन के भी निशान मिले हैं, लेकिन शेष बकरियां नहीं मिलीं।


परिजन बोले रुपए बिना नहीं निकल पाती बकरियां
परिजनों ने आरोप लगाया कि महोली चौकी की पुलिस बकरियों से भरे हर वाहन से 100 रुपए नग के हिसाब से पैसे वसूलती है तभी वाहन निकल पाते हैं। स्थिति यह है कि यदि किसी रिश्तेदार को एक बकरी भी दे देते हैं तो पुलिस द्वारा चौकी के सामने से उनसे 100 रुपए वसूलकर ही निकलने दिया जाता है। परिजनों ने पुलिस पर वसूली के आरोप लगाए और कहा कि पैसे लेकर पुलिस बकरियों से भरे वाहनों को निकल जाने देती है।

 

मृतक के सिर, गले व पैर में बल्लम जैसे नुकीले हथियार के निशान मिले हैं, हालांकि रात में उसका मोबाइल नहीं मिल सका। अज्ञात आरोपी के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज लिया है और आरोपियों की तलाश की जा रही है।
लक्ष्मीसिंह, एसडीओपी चंदेरी


मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया कि गुमशुदगी दर्ज कराने जाने पर महोली चौकी के हवलदार ने अभद्रता कर भगा दिया। इससे चौकी के प्रधान आरक्षक को निलंबित किया गया है। जांच करवाई जा रही है।
रघुवंशसिंह भदौरिया, एसपी

Show More
Bharat pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned