बारिश देगी राहत , लेकिन अवैध कब्जों से नाले बढ़ाएंगे दिक्कत

बारिश देगी राहत , लेकिन अवैध कब्जों से नाले बढ़ाएंगे दिक्कत

Arvind jain | Updated: 15 Jun 2019, 01:21:19 PM (IST) Ashoknagar, Ashoknagar, Madhya Pradesh, India

दावों की हकीकत: जिम्मेदार दावे तो करते हैं, लेकिन मानसून से पहले ध्यान नहीं दिया तो बढ़ेगी समस्या।
- प्रशासनिक लापरवाही बनेगी बारिश के मौसम में आमजन के लिए आफत, मानसून पूर्व तैयारियों पर नहीं ध्यान।

अशोकनगर. प्री-मानसून का दौर चल रहा है और जल्द ही मानसून भी दस्तक देने वाला है। भीषण गर्मी में भले ही लोग बारिश से राहत की उम्मीद कर सकते हैं, लेकिन प्रशासनिक लापरवाही इसे आफत में बदलने को तैयार है। प्री-मानसून की बारिश से इस ओर इशारा भी कर दिया है, लेकिन प्रशासनिक मशीनरी परेशानियों से निपटने के लिए तैयार नहीं है। पिछले सालों में जलभराव और रास्ते बंद होने समस्याएं सामने आई थीं, इस बार बारिश से पहले उन दिक्कतों से निपटने के क्या प्रयास हुए, पत्रिका ने पड़ताल की तो स्थिति भयावह करती नजर आई।

 


शहर के दो नालों को तो लोगों ने कब्जा कर मिट्टी से भर दिया है और यह नाले बंद हो गए हैं। पिछले वर्षों में जहां इन नालों से लोगों को कॉलोनियों में जलभराव की समस्या से जूझना पड़ा था, लेकिन इस बार इन नालों के बंद हो जाने से बारिश के मौसम में करीब 100 गांव का रास्ता बंद हो जाएगा तो वहीं शहर में आसपास के रहवासी इलाकों में इस बार ज्यादा पानी भरने की आशंका है। लेकिन जानकारी होने के बावजूद भी इस पर प्रशासन द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। नतीजतन बारिश के मौसम में लोगों की दिक्कतें हर साल की अपेक्षा इस बार ज्यादा बढऩे की आशंका है।


यह हैं शहर के नालों के हालात-
1. कचरे से पैक नाला, घरों में भरेगा पानी-
शहर की नहर कॉलोनी में पछाड़ीखेड़ा से निकली नहर अब नाला बन चुकी है। पॉलीथिन और कचरे से यह नाला भरा पड़ा है और अब तक इसकी सफाई नहीं हुई है। पिछले वर्ष बारिश में नाले का पानी घरों में भर गई थी और पूरी कॉलोनी में घुटनों तक पानी व गंदगी थी। यदि समय पर सफाई नहीं हुई तो इस बार ज्यादा समस्या बढ़ जाएगी।

 


2. बारिश में सड़कों पर बह गया कचरा-
विदिशा रोड पर तारा सदन स्कूल के पास बने नाला भी कचरे से लबालब है और जगह-जगह चॉक हो चुका है। गुरुवार को प्री-मानसून की पहली बारिश में ही नाले से कचरा और नाले का पानी सड़क पर बहने लगा। वहीं अब फिर से होने वाली बारिश में भी नालों की गंदगी सड़क पर ही बहेगी।


अवैध कब्जों ने बंद कर दिए शहर के यह नाले-


1. आरोन रोड से 100 गांव का रास्ता, हो जाएगा बंद-
आरोन रोड पर स्थित नाले पर लोगों ने अवैध रूप से कब्जा कर लिया और मिट्टी भरकर इस नाले को समतल कर दिया है। साथ ही बारिश में यह मिट्टी न बहे, इसके लिए फर्सियां भी लगाई जा रही हैं। जबकि पिछले साल ही इस नाले पर पुलिया निर्माण पर लाखों रुपए खर्च हुए थे।

 

आरोन सहित करीब 100 गांव के लिए यही एक रास्ता है, लेकिन पानी की निकासी न होने से बारिश में रास्ता पूरी तरह से बंद होने की आशंका है। शहर सहित चार-पांच गांवों से बहकर आने वाला पानी बारिश में अब अन्य रास्तों से निकलेगा, इससे बस्तियों में पानी भरने की आशंका है। पत्रिका ने पांच मई को खबर प्रकाशित की तो प्रशासन ने शीघ्र ही जांच कराने की बात कही थी, लेकिन बाद में प्रशासन भूल गया।

 


2. इसी रास्ते पर दूसरा नाला भी मिट्टी से किया बंद-
आरोन रोड पर ही एक अन्य नाले को भी मिट्टी डालकर बंद कर दिया गया है। मिट्टी डालकर नाले को समतल कर दिया गया है, लेकिन बारिश के मौसम में अब पानी कहां से निकलेगा। पिछले वर्षों में शंकरपुर मगरदा स्थित कॉलोनी में इस नाले से पानी भरने के मामले आए थे, लेकिन इस बार पानी निकासी की व्यवस्था नाले में बंद हो जाने से कॉलोनियों में ज्यादा पानी भरने की आशंका है।



news in mp

नपा का दावा: शहर के सभी नाले होंगे साफ-
शहर के नालों को साफ करने के लिए नपा द्वारा सफाई अभियान चलाया जा रहा है, लेकिन शहर के ज्यादातर नालों की अब तक सफाई नहीं हुई है। हालांकि नपा का दावा है कि सभी नालों को बारिश से पहले साफ कर दिया जाएगा। सीएमओ शमशाद पठान के मुताबिक क्रमबद्ध तरीके से नालों की सफाई का काम चल रहा है और जल्दी ही सभी नालों को साफ कराया जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned