अचानक सामने आई जीप ...... फिर मची चीख-पुकार

सड़क हादसा: करीला जा रहे वाहन में सवार थे श्रद्धालु, 17 लोग हुए घायल

By: Manoj vishwakarma

Published: 28 Feb 2021, 12:11 AM IST

अशोकनगर. सामने से आई जीप से टकराने से बचाने के प्रयास में मैजिक वाहन अनियंत्रित होकर पलट गया। मैजिक में 21 लोग बैठे हुए थे जो मन्नत पूरी होने पर राई कराने करीला जा रहे थे, रास्ते में हुए एक्सीडेंट में 17 लोग घायल हो गए। इनमें से तीन बच्चों की हालत गंभीर होने से इलाज के लिए ग्वालियर रैफर किया है।

घटना शनिवार को थूबोन के पास की है। शिवपुरी जिले के अचरौनी गांव से प्रमोद जोशी ने पुत्र की मन्नत मांगी थी, मन्नत पूरी होने के सात साल बाद वह बेटे को साथ लेकर परिवार व रिश्तेदारों के साथ राई कराने पूर्णिमा पर करीला जा रहा था। थूबोन के पास मैजिक अनियंत्रित होकर पलट गई। ग्रामीणों व पुलिस की मदद से घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया गया। तीन बच्चों नंदनी, देव, अनमोल के गंभीर घायल होने पर ग्वालियर रैफर किया गया। वहीं रमेश जोशी, वर्षा, संध्या, इमरतलाल, पिंकी, सौम्या, रति, पल्लवी,राधिका, सूरज, राशि, अमित, सीमा और मुस्कान सहित अन्य लोग घायल हैं।

एक माह पहले ही खरीदा था वाहन

घायलों ने बताया कि मैजिक वाहन खरीदा था और उसी से करीला जा रहे थे, लेकिन सामने आई जीप से टकराने से वाहन अनियंत्रित हो गया। लोगों का कहना है कि जिस जगह यह मैजिक वाहन पलटा, उससे कुछ ही दूरी पर खंती थी। गनीमत रही कि मैजिक खंती में नहीं गिरी, नहीं तो बड़ी दुर्घटना हो सकती थी। बड़ी संख्या में घायल पहुंचने से वार्ड में जगह नहीं बची और पलंग नहीं मिल सके।

इधर, खाना नहीं देते और कमरे में कर देते हैं बंद, मौके पर पहुंची पुलिस

अशोकनगर. स्वरोजगार से जोडऩे के लिए महिलाओं व युवतियों को दिए जा रहे प्रशिक्षण में शामिल महिला ने आरोप लगाया कि खाना नहीं देते और कमरे में बंद कर देते हैं। इससे एसपी के निर्देश पर बड़ी संख्या में पुलिस जवान मौके पर पहुंचे और महिलाओं से बंद कमरे में महिला पुलिस ने बयान लिए। साथ ही मामले की जांच की जा रही है।
मामला कोलुआ रोड स्थित एसबीआई ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान का है। जहां पर करीब 25 महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जहां प्रशिक्षण में शामिल एक महिला ने पुलिस को शिकायत कर यह आरोप लगाया था कि खाना नहीं दिया जा रहा और कमरे में बंद कर दिया जाता है। सूचना पर एसपी ने देहात थाना की टीम को मौके पर भेजा था। मैस संचालक अंकित शर्मा का कहना है कि खाना का समय दोपहर एक से दो बजे तक है और सभी को समय पर खाना दिया जा रहा है, शनिवार को गैस सिलेंडर खत्म हो गया था और 10-15 मिनट में ही सिलेंडर आ गया, साथ ही समय पर खाना दिया गया।

Manoj vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned