sansad kp yadav: सांसद केपी यादव बोले राष्ट्रहित में सिंधिया का हृदय परिवर्तन हुआ है तो स्वागत है

sansad kp yadav: सांसद केपी यादव बोले राष्ट्रहित में सिंधिया का हृदय परिवर्तन हुआ है तो स्वागत है

Arvind jain | Updated: 12 Aug 2019, 03:55:42 PM (IST) Ashoknagar, Ashoknagar, Madhya Pradesh, India

अनुच्छेद 370 पर सिंधिया का ट्वीट पर सांसद का बयान,

- कहा हर हिंदुस्तानी के दिल में था कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटना चाहिए।

अशोकनगर. जम्मू-कश्मीर Jammu and Kashmir से अनुच्छेद 370 Article 370 हटने पर पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया Jyotiraditya Scindia ने ट्वीट कर केंद्र सरकार के निर्णय का समर्थन किया था। पूर्व सांसद सिंधिया guna sansad kp yadav NEWS के ट्वीट tweet पर क्षेत्रीय सांसद डॉ.केपी यादव ने कहा कि यदि उनका हृदय परिवर्तन हुआ है और राष्ट्रहित व देशहित में कोई ऐसा ट्वीट किया है तो मैं उनका स्वागत करता हूं।

 

रविवार को सांसद डॉ.केपी यादव ने कहा कि किसी भी हिंदुस्तानी से पूछोगे तो उसने 370 हटने का समर्थन किया है और हर हिंदुस्तानी के दिल में था कि अनुच्छेद 370 हटना चाहिए, पर हां पार्टी के कुछ अपने-अपने एजेंडे रहते हैं और शायद उस कारण से पहले सिंधिया पार्टी के साथ खड़े दिखते थे, लेकिन मुझे लगता है कि यदि उनका हृदय परिवर्तन हुआ है और उन्होंने राष्ट्रहित या देशहित में ऐसा कोई ट्वीट किया है तो उनका सम्मान करता हूं।

मान सम्मान 370 हटने के बाद मिलेगा
साथ ही सांसद ने यह भी कहा कि आम भाषा में हम सभी कहते थे कि कश्मीर अभिन्न अंग है, लेकिन जब कोई घूमने जाता था तो वाकई ऐसा लगता था कि जो मान सम्मान देश का कश्मीर को अनुच्छेद 370 हटने के बाद मिलेगा, वह कहीं न कहीं मिल नहीं रहा था। कई कानून थे, जो वहां के अलग थे और यहां के अलग। वहां जाने पर पता चलता था कि हकीकत क्या है।


कश्मीर के लोगों में दिखती थी यह पीड़ा-
सांसद डॉ.केपी यादव ने कहा कि वहां के लोगों की भी हमेशा से इच्छा थी कि हमें भी भारत से ही जुडऩा है, भारत में जो सुविधाएं सरकार की तरफ से मिल रही हैं, वह हमें क्यों नहीं मिल रहीं हैं, वहां के लोग यह पीड़ा बताते थे। हर व्यक्ति को पता था कि 370 हटेगी तो वहां के गरीबों का कितना हित हो सकता है, क्योंकि सरकार की हजारों ऐसी स्कीमें थीं, जिनका लाभ उन्हें नहीं मिल रहा था और वह इससे वंचित थे।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned