आंधी-बारिश ने मचाई तबाही गुमठियां उड़कर सड़क पर आईं

अशोकनगर/मुंगावली/पिपरई. नगर में बुधवार को तेज आंधी व बारिश ने जमकर तबाही मचाई।

By: Praveen tamrakar

Published: 07 Jun 2018, 09:13 AM IST

अशोकनगर/मुंगावली/पिपरई. नगर में बुधवार को तेज आंधी व बारिश ने जमकर तबाही मचाई। आधे घंटे तक तेज आंधी व बारिश होती रही इससे मुंगावली सहित जिले भर में तबाही मच गई।१०८ वाहन पर पेड़ गिर जाने से वाहन दब गया। कई मकानों का छप्पर उड़ गया। गुमठियां उड़कर सड़क के बीचों-बीच आ गईं। कई पेड़ टूटकर सड़क पर गिर गए। इससे आवागमन बाधित हो गया।

जानकारी के अनुसार कुशवाह कालोनी में वार्ड नंबर ५ में बिजली का खंभा गिर गया तो माता मोहल्ले में एक मकान का छप्पर उड़ गया। बहाुदुरपुर रोड पर गुमठियां उड़कर सड़क पर आ गईं। थाना प्रांगण में रखी १०८ वाहन पर पेड़ उखड़कर गिर गया। जिससे वह क्षतिग्रस्त हो गई। खंभे टूट जाने से बिजली की व्यवस्था भी चौपट हो गई। जो शाम तक नहीं आई।

खरीदी केंद्रों पर भीग बीस हजार बोरी अनाज
समय पर परिवहन नहीं होने से खऱीदी केंद्रों पर खुले में पड़ा करीब 20 हजार बोरी अनाज बुधवार को हुई तेज बारिश से भीग गया है। बुधवार को आंधी के साथ तेज बारिश के चलते नवीन मंडी एवं वेयरहाउस की गोदाम के बाहर चनाए मसूर एवं सरसों के लिए बनाए गए समर्थन मूल्य खरीदी केंद्रों पर खुले में पड़ा 20 हजार बोरी अनाज भीगकर खराब हो गया है। केन्द्र संचालकों द्वारा बारिश के बचाव के कोई उपाय नहीं किए गए।

मंडी में भी व्यापारियों का गोदामों में रखा अनाज भीग गया। व्यापारियों का कहना है कि मंडी प्रांगण में पानी निकासी न होने के कारण फड़ों में पानी भरता है। प्रशासन ने निकासी पर रोक लगा रखी है। जिससे माल को सुरक्षित स्थान पर भी नहीं भेज सके। जिला मुख्यालय पर तेज आंधी के कारण सैकड़ों वर्षपुराने रिहायसी इलाकों में गिर गए लेकिन गनीमत रही कि इनकी चपेट में कोई नहीं आया और एक बड़ा हादसा होते-होते टल गया। मंडी में स्थित पुराना पेड़ तेज आंधी से टूटकर गिर गया। जिसकी चपेट में किसानों के लिए लगाया गया टेंट टूट गया। गनीमत रही कि कोई उसकी चपेट में नहीं आया।

Show More
Praveen tamrakar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned