teacher transfer : शिक्षकों के ट्रांसफर पर लगी रोक, बताया ये कारण

teacher transfer : शिक्षकों के ट्रांसफर पर लगी रोक, बताया ये कारण

Arvind jain | Updated: 13 Aug 2019, 11:32:29 AM (IST) Ashoknagar, Ashoknagar, Madhya Pradesh, India


- बीईओ और संकुल प्राचार्यों को आदेश किसी भी शिक्षक को न कार्यमुक्त करें और ज्वॉइन कराएं।

अशोकनगर। शासन ने ऑनलाइन एजुकेशन पोर्टल के माध्यम से जिले के शिक्षकों के ट्रांसफर teacher transfer किए तो जिला शिक्षा अधिकारी deo MP ने उन शिक्षकों की कार्यमुक्ति व ज्वॉइनिंग पर रोक ban लगा दी है। साथ ही आदेश जारी किया है कि ट्रांसफर के बाद जिन शिक्षकों को नवीन संस्थाओं में ज्वॉइन करा लिया गया है, उन्हें तुरंत ही कार्यमुक्त कर पूर्व संस्था के लिए भेज दिया जाए।

 

जिला शिक्षा अधिकारी ने रोक लगा दी है
लोक शिक्षक संचालनालय ने 9 व 10 अगस्त को एजुकेशन पोर्टल के माध्यम से शिक्षकों के जिला अंतर्गत और एक जिले से दूसरे जिले के लिए स्थानांतरण के आदेश जारी किए हैं। जिन पर जिला शिक्षा अधिकारी आदित्यनारायण मिश्रा ने रोक लगा दी है। डीईओ ने जिले के सभी बीईओ और सभी संकुल प्राचार्यों को सोमवार को आदेश जारी किया है कि जिन शिक्षकों के ट्रांसफर हो गए हैं, उन्हें न तो कार्यमुक्त किया जाए और न हीं नवीन संस्थाओं में ज्वॉइन कराया जाए।

 

रोक लगाने का यह बताया कारण-
अपने आदेश में डीईओ का कहना है कि शिक्षकों के ट्रांसफरों की वजह से कुछ स्कूल शिक्षक विहीन हो रहे हैं तो कुछ स्कूलों में ज्यादा शिक्षक पहुंच जाने से अतिशेष की स्थिति उत्पन्न हो रही है। इस स्थिति को देखते हुए शिक्षकों के कार्यमुक्त और कार्यभार ग्रहण कराने पर रोक लगाई गई है और लोक शिक्षण संचालनालय से इस स्थिति पर मार्गदर्शन मांगा है। जब तक मार्गदर्शन नहीं मिलेगा, तब तक रोक जारी रहेगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned