scriptTroubled farmer gave his life for fertilizer | खाद के लिए परेशान किसान ने दे दी जान | Patrika News

खाद के लिए परेशान किसान ने दे दी जान

खाद के लिए किसान की मौत का संभवतः पहला ममला, पुलिस और प्रशासन ने कहा नशेड़ी था किसान

अशोकनगर

Published: October 29, 2021 07:52:35 pm

अशोकनगर. मध्य प्रदेश में खाद को लेकर किसानों की परेशानी किसी से छुपी नहीं है। प्रदेश के कई जिलों से खाद के लिए मारामारी की तस्वीर हर रोज सामने आ रही है। खाद की किल्लत अब इतनी भयानक होती जा रही है कि एक किसान ने परेशान होकर अपनी जान दे दी। परिजनों ने दावा किया है कि किसान खाद को लेकर परेशान था। किसान की मौत को लेकर बीजेपी और कांग्रेस आमने सामने आ गई हैं।

khad_1.png

प्रदेश के ग्वालियर चंबल अंचल से लेकर बुंदेलखंड तक में किसान खाद के लिए भटक रहे हैं। और राजनीतिक पार्टियां अपनी राजनीतिक रोटियां सेंक रही हैं। ताजा मामला अशोकनगर जिले का है जिले के ईसागढ़ तहसील के पिपरौल गांव के किसान धनपाल ने खेत में सल्फास खाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। घटना गुरुवार रात 9:00 बजे की है। किसान के परिजनों का कहना है कि वह खेत पर गए थे और घर आकर बताया कि उन्होंने सल्फास खाया है। परिजन उनको जिला अस्पताल ले गए लेकिन उनकी मौत हो गई।

Must See: सियार को निगलकर आराम फरमा रहा था अजगर, देखकर उड़ गए होश, फिर...

मृतक किसान के परिजन विजयपाल यादव ने बताया कि धनपाल के पास केवल 8 बीघा जमीन हैृ और उसके ऊपर ढाई लाख रुपये का कर्जा था। इस साल ही उनकी सोयाबीन की फसल बर्बाद हो गई थी। अब फिर से बोनी की तैयारी कर रहे थे, पर कोशिशों के बाद भी खाद नहीं मिला।

Must See: उपचुनावः भाजपा नेता का वीडियो वायरल, कहा चुनाव जीतने के लिए....

खाद को लेकर किसान की आत्महत्या का मामला सामने आने के बाद पुलिस और तहसीलदार अस्पताल पहुंचे। मामले को देखते हुए अस्पताल को छावनी में तब्दील कर दिया गया। किसान की मौत के बाद सिटी कोतवाली पुलिस ने दावा किया है कि धनपाल नशे का आदी था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.