मक्खन बनाते समय युवक को लगा करंट तो बचाने पहुंची मां, दोनों की मौत

- पत्नी संक्रांति पर मायके गई हुई थी, घर पर मशीन से मक्खन निकालते समय हुई घटना।

अशोकनगर. मशीन से मक्खन बनाते समय युवक को करंट लग गया, आवाज सुनकर बचाने के लिए वृद्ध मां पहुंची तो वह भी करंट की चपेट में आ गई। इससे मां-बेटे की मौत हो गई। दोनों मां-बेटे का अस्पताल में पीएम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए, दोपहर के समय घर से मां-बेटे की एक साथ अर्थी निकलीं तो गांव का माहौल गमगीन हो गया और पूरे गांव में मातम छाया रहा।

घटना बहादुरपुर थाना क्षेत्र के अमोदा गांव में गुरुवार रात पौंने आठ बजे की है। पुलिस के मुताबिक 26 वर्षीय हरिओम पुत्र स्व.महाराजसिंह गुर्जर की पत्नी संक्रांति पर मायके गई हुई थी।

इसलिए वह घर में मशीन से मक्खन निकाल रहा था, इस दौरान हरिओम गुर्जर ने जैसे ही मटके में पानी डाला तो उसे करंट की चपेट में आ गया, आवाज सुनकर 65 वर्षीय मां मुल्लोबाई भागते हुए पहुंची और हरिओम को हाथ से पकड़कर उठाने का प्रयास किया तो मां मुल्लोबाई भी करंट की चपेट में आ गई।

घटना इतनी भयानक थी कि मां-बेटे की मौके पर ही मौत हो गई। बाद में परिजनों ने उन्हें बेसुध पड़ा देखकर बिजली बंद की और दोनों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बहादुरपुर लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।


एक साथ निकलीं दो अर्थियां, पूरे गांव में रहा मातम-
शुक्रवार को दोनों मृतकों का बहादुरपुर में पोस्टमार्टम हुआ और शव परिजनों को सौंप दिए। इससे दोपहर के समय अमोदा गांव में घर से मां-बेटे की एक साथ अर्थी निकालकर अंतिम संस्कार किया गया। मां-बेटे की एक साथ मौत हो जाने से पूरे गांव में मातम छा गया और गांव का माहौल गमगीन रहा। थाना प्रभारी नरेंद्रसिंह यादव ने बताया कि मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया है।

Arvind jain
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned