weather: कोहरे से बढ़ी फिसलन तो मुख्य ट्रेक पर फंसी मालगाड़ी, 3 घंटे बंद रहा रेलवे ट्रेक

कोहरे fogg ने बढ़ाई दिक्कत: रातभर रहा घना कोहरा और दृश्यता रही शून्य, रेलवे railway ट्रेक पर भी कोहरे से बढ़ाई समस्या।
- ट्रेक पर आवाजाही चालू होने के इंतजार में स्टेशनों पर घंटों रुकी रहीं यात्री ट्रेनें, परेशान होते रहे यात्री।

अशोकनगर@अरविंद जैन की रिपोर्ट...

मध्यप्रदेश के विभिन्न जिलों में पश्चिमी विक्षोभ के कारण जिले का मौसम weather एक बार फिर बदल गया। पिछले दिनों जहां दिनभर कोहरा fogg छाया रहा, वहीं सुबह हल्की बूंदाबांदी rain होने से मौसम में ठंडक रही। मौसम में हुए बदलाव से रात और दिन के तापमान में काफी अंदर दर्ज किया गया। कोहरा छाए रहने से हाईवे से निकलने वाले वाहनों की गति भी धीमी रही।

ऐसे में मध्यप्रदेश के अशोकनगर में शुक्रवार शनिवार की दरमियानी रात में रातभर जिला घने कोहरे fog की चपेट में रहा, कोहरा इतना घना था कि दृश्यता शून्य रही। कोहरे के दौरान नमी weather से बूंदाबांदी होने से ट्रेक पर फिसलन बढऩे से कोयले से भरी मालगाड़ी train मुख्य ट्रेक पर फंस गई।

इससे लगातार तीन घंटे तक गुना-बीना रेलवे ट्रेक जाम रहा और ट्रैक railway track पर टे्रनों की आवाजाही बंद रही। इससे घंटों तक ट्रेनें स्टेशनों पर रुकी रहीं और यात्री परेशान होते रहे। बाद में मुख्य ट्रेक से मालगाड़ी हटने के बाद ट्रेने निकल सकीं। इससे ट्रेनें train late घंटों की देरी से चलीं।

वहीं भोपाल शहर में शुक्रवार को दिन भर आसमान पर बादलों weather की आवाजाही रही। इससे ठंड से लोगों को कुछ राहत मिली, लेकिन रात को सर्द हवा ने लोगों को परेशान किया। जिले में तीन दिन से मौसम बदला हुआ है। उत्तर में होने वाली बर्फबारी का असर मैदानी इलाकों में हो रहा है। सुबह धुंध छाए रही।

गुना की ओर जा रही कोयले से भरी मालगाड़ी गुरुवार शाम को पिपरई स्टेशन के पास मुख्य ट्रेक पर फंस गई और मालगाड़ी आगे नहीं बढ़ सकी। रेलवे कर्मचारियों के मुताबिक कोहरा weather बरसने से ट्रेक पर फिसलन बढऩे से यह समस्या आई।

बाद में बीना तरफ से दूसरा इंजन मंगाकर मालगाड़ी को पीछे से धक्का देकर निकाला गया। इस प्रक्रिया में करीब तीन घंटे लगे और इससे ट्रेक पर ट्रेनों की आवाजाही रुकी रही।

इससे बीना-गुना पैसेंजर पौंने तीन घंटे तक गुन्हेरू बामोरी स्टेशन, इंटरसिटी एक्सप्रेस डेढ़ घंटे तक मुंगावली स्टेशन और नागदा पैसेंजर सवा घंटे अशोकनगर स्टेशन पर रुकी रही। इससे घंटों तक यात्री ट्रेनों के चलने का इंतजार करते रहे।

घंटों की देरी से चलीं यात्री ट्रेनें-
रेलवे ट्रेक जाम weather रहने से ट्रेनें घंटों की देरी से चलीं। इससे कड़ाके की सर्दी में यात्री ट्रेनों के इंतजार में परेशान होते रहे। शाम को 4:47 बजे अशोकनगर आने वाली बीना-गुना पैसेंजर साढ़े पांच घंटे की देरी से रात 10:25 बजे आई।

वहीं भोपाल-ग्वालियर इंटरसिटी एक्सप्रेस शाम 6:36 बजे की वजाय चार घंटे 12 मिनिट की देरी से रात 10:40 बजे, भोपाल-जोधपुर एक्सप्रेस रात 9:41 बजे की वजाय 11:08 बजे आई।

वहीं नागदा-बीना पैसेंजर रात 8:39 बजे की वजाय 10:16 बजे आई और 11:32 बजे तक रुकी रही। वहीं रात को 7:47 बजे आने वाली गुना-बीना पैसेेंजर छह घंटे की देरी से रात 1:46 बजे अशोकनगर आई।

नेशनल हाईवे पर 10 किमी की रफ्तार से चल सके वाहन-
जिस नेशनल हाईवे 346ए से वाहन तेज स्पीड से निकलते हैं, लेकिन रातभर घना कोहरा weather रहने से 10 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से वाहन निकल सके। हालत यह थी कि वाहन चालकों को हाईवे की सफेद पट्टियों को देखकर वाहन चलाना पड़े। लगातार 63 घंटे तक कोहरा छाया रहने के बाद तीन दिन बाद सुबह 9 बजे धूप निकली।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned