तीन दिन के बच्चे को वृद्धा की गोद में छोड़ गई महिला

अशोकनगर/मुंगावली. गुना-बीना ट्रेन शनिवार को बुर्का पहने हुए एक युवती तीन दिन के बच्चे को बुजुर्ग महिला की गोद में छोड़कर चली गई।

By: दीपेश तिवारी

Published: 20 May 2017, 11:59 PM IST

अशोकनगर/मुंगावली. गुना-बीना ट्रेन शनिवार को बुर्का पहने हुए एक युवती तीन दिन के बच्चे को बुजुर्ग महिला की गोद में छोड़कर चली गई। ट्रेन चलने के बाद भी वह नहीं लौटी तो मुंगावली में बुजुर्ग महिला बच्चे को थाने लेकर पहुंची और पुलिस को सारी जानकारी दी।

पगारा के पास स्थित टोरिया गांव की सखीबाई एवं चाचूखेड़ा निवासी धनियाबाई ने पुलिस को बताया कि दोपहर लगभग 12.00 बजे अशोकनगर स्टेशन पर जब ट्रेन रुकी तो करीब 20 वर्षीय एक महिला बच्चे को उनकी गोद में छोड़कर चली गई। उसने कहा आप इसे थोड़ा पकड़ लो। हमने सोचा बाथरूम जा रही होगी, लेकिन ट्रेन चलने तक भी जब वह नहीं लौटी तो अन्य यात्रियों को बताया। एक यात्री ने कहा कि वह महिला तो अशोकनगर के रेलवे स्टेशन पर ट्रेन के बाहर खड़ी थी।


दोनों बुजुर्ग महिलाओं ने मुंगावली आने तक न केवल बच्ची की देखभाल की बल्कि उसे दूध खरीदकर भी पिलाया। पुलिस ने बच्चे को अस्पताल भेजा जहां से उसे जिला अस्पताल भेज दिया गया। डॉ. अमित आर्य ने बच्चे के साथ में जिला अस्पताल तक जाने वाली दोनों बुजुर्ग महिलाओं को खाना एवं जूस पीने के लिए पैसे भी दिए। अशोकनगर में बच्चे को एसएनसीयू में भर्ती करवाया गया है। जहां बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष भूपेन्द्र रघुवंशी ने उसकी सुपुर्दगी ली। डाक्टरों के अनुसार बच्चे को पीलिया है और उसका वजन भी कम है। इसलिए उसे कुछ दिन एसएनसीयू में ही रखना पड़ेगा, इसके लिए उसे शिशु गृह के सुपुर्दकर दिया जाएगा।
Show More
दीपेश तिवारी Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned