कजाकिस्तान में हिंसा के बाद फंसे 150 भारतीय, केरल के CM विजयन ने दूतावास से मांगी जानकारी

  • Kazakhstan violence: टेंजिंग ऑयल फील्ड में भारतीय व स्थानीय लोगों के बीच हिंसक झड़प
  • केरल के सीएम पिनराई विजयन ( Pinarayi Vijayan ) ने भारतीय दूतावास से इस बारे में जानकारी मांगी है

By: Anil Kumar

Updated: 01 Jul 2019, 07:24 PM IST

नूर सुल्तान। कजाकिस्तान ( Kazakhstan ) में 150 से अधिक भारतीय मुसीबत में फंसे हुए हैं। सभी को वहां से निकालने के लिए सरकार से अपील की गई है। दरअसल, टेंगिज में ऑयल फील्ड में काम करने वाले भारतीय व स्थानीय लोगों के बीच विवाद बढ़ने के बाद कजाकिस्तान में 150 से अधिक भारतीय फंस गए हैं। इनमें से सबसे अधिक केरल के रहने वाले हैं।

यह खबर सामने आने के बाद नॉन रेजिडेंट ऑफ केरलाइट्स अफेयर ( NORKA ) ने कजाकिस्तान स्थित भारतीय दूतावास से संपर्क किया है और भारतीय कर्मचारियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए जरूरी कदम उठाने की मांग की है।

कजाकिस्तान: राष्ट्रपति चुनाव में हिंसक प्रदर्शन, मतदान का विरोध करने वाले सैंकड़ों प्रदर्शनकारी गिरफ्तार

साथ ही केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने मामले की गंभीरता को देखते हुए नोरका से जरूरी कदम उठाने की बात कही है। राज्य सरकार ने भी दूतावास से अपील की है कि कजाकिस्तान में फंसे भारतीयों की जानकारी उपलब्ध कराई जाए।

केरल के सीएम पिनराई विजयन

क्या है पूरा मामला

बता दें कि कजाकिस्तान के टेंगिज ऑयल फील्ड में काम करने वाले भारतीय और स्थानीय लोगों के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया। दोनों गुटों में मामला इतना बढ़ गया कि मामूली कहासुनी हिंसक झड़प में बदल गई। इस घटना में 30 लोग घायल हो गए। बताया जा रहा है कि इस विवाद में 150 भारतीय फंसे हुए हैं, जिसमें सबसे अधिक केरल के रहने वाले हैं।

भारतीय दूतावास की ओर से दी गई शुरुआती जानकारी के मुताबिक, हिंसक झड़प में किसी भारतीय को गंभीर नुकसान नहीं हुआ है। विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ( Vellamvelly Muraleedharan ) ने ट्वीव कर जानकारी दी है।

कजाकिस्तान में तीस साल में पहली बार हुए राष्ट्रपति चुनाव, कसीम जोमार्ट-टोकेयेव की सत्ता में वापसी

मुरलीधरन ने जानकारी दी है कि ऑयल फील्ड में एक निर्माण स्थल पर कुछ कर्मचारियों के बीच विवाद हुआ था, लेकिन इसमें भारतीय शामिल नहीं थे। फिलहाल इस मामले पर भारतीय दूतावास से लगातार संपर्क बने हुए हैं।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned