इंडोनेशिया: पापुआ हमले के बाद 16 शव बरामद, 31 लोगों के मरने की जताई गई है आशंका

इंडोनेशिया: पापुआ हमले के बाद 16 शव बरामद, 31 लोगों के मरने की जताई गई है आशंका

Siddharth Priyadarshi | Publish: Dec, 06 2018 01:18:00 PM (IST) एशिया

सुरक्षाबलों ने 16 लोगों के शव बरामद किए हैं

जकार्ता। इंडोनेशिया के पापुआ प्रांत में अलगाववादी विद्रोहियों के हमले के बाद 31 लोगों के मरने की आशंकाओं के बीच पुलिस ने 16 शव बरामद किया हैं। बताया जा रहा है की ये सभी शव एक निर्माण कार्य में लगे मजदूरों के हैं। आशंका जताई गई है की विद्रोहियों ने कम से कम 31 मजदूरों को मार डाला है। इस बीच इंडोनेशियाई सुरक्षाबलों ने 16 लोगों के शव बरामद किए हैं। सेना ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

300 साल पुराने तीर्थ स्थल का दर्शन करने पाकिस्तान पहुंचे भारतीय हिन्दू, वाघा बार्डर पर हुआ स्वागत

16 शव बरामद

पुलिस के अनुसार हाल के वर्षों में हुए इस सबसे घातक हमले में मारे गये अधिकतर लोगों में संभवत: निर्माण कार्य में लगे मजदूर शामिल हैं। स्थानीय सैन्य कमांडर बिंसार पंजैतन ने कहा कि नदुगा जिले में स्थित हमले की जगह से शवों को तिमिका शहर लाया जाएगा। पापुआ में पंजैतन ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ फिलहाल जानकारी यह है कि अभी तक 16 शव बरामद किए गए हैं। अभी और भी शवों को खोजने का प्रयास किया जा रहा है। प्रत्यक्षदर्शियों के हवाले से पापुआ पुलिस के प्रवक्ता ने बताया था कि इस हमले में आठ अन्य श्रमिक स्थानीय नेता के आवास की ओर भाग गये थे लेकिन एक दिन बाद उन्हें भी तलाश कर मार डाला गया।

इंडोनेशिया: लंबोक क्षेत्र में 5.5 तीरता का भूकंप, इलाके को खाली कराया गया

अशांत है पापुआ

बता दें कि इन दिनों इंडोनेशिया का पापुआ प्रान्त अशांत है। इस इलाके में मजदूरों के 31 शव मिलने के बाद हड़कंप मच गया है। इलाके में अभी भी जहां तहां शव बिखरे पड़े हैं। सुरक्षा बलों के जवान जगह-जगह तैनात हैं। बता दें कि पापुआ इलाका अलगाववादियों का मजबूत गढ़ है। पुलिस ने मंगलवार को इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि मृतकों की संख्या अभी आगे बढ़ने की आशंका जताई जा रही है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned