Afghanistan: स्वतंत्रता दिवस से एक दिन पहले राजधानी Kabul में रॉकेट से हमला, 10 घायल

HIGHLIGHTS

  • अफगानिस्तान में स्वतंत्रता दिवस ( Afghanistan independence Day ) से ठीक एक दिन पहले मंगलवार को राजधानी काबुल में रॉकेट हमला ( Rocket Attack In Kabul ) किया गया।
  • आंतरिक मंत्रालय के प्रवक्ता ने ट्वीट में लिखा कि काबुल शहर में सुबह 9:30 बजे के करीब पुलिस जिला 8 और पुलिस जिला 17 में दो सेडान कार ( Sedan Car ) से रॉकेट दागे गए।

By: Anil Kumar

Updated: 18 Aug 2020, 09:46 PM IST

काबुल। अफगानिस्तान ( Afghanistan ) में शांति बहाली को लेकर लगातार कोशिशें की जा रही है, लेकिन इसके बावजूद भी हमलों को सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। अफगानिस्तान में स्वतंत्रता दिवस ( Afghanistan Independence Day ) से ठीक एक दिन पहले मंगलवार को राजधानी काबुल में रॉकेट हमला ( Kabul Rocket Attack ) किया गया।

आंतरिक मंत्रालय के प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि 101वें स्वतंत्रता दिवस से एक दिन पहले यह हमला किया गया। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि काबुल शहर में सुबह 9:30 बजे के करीब पुलिस जिला 8 और पुलिस जिला 17 में दो सेडान कार से रॉकेट दागे गए।

Afghanistan में PAK सेना के हमले में 9 की मौत, 50 से अधिक घायल, Afghan Army जवाबी कार्रवाई के लिए तैयार

बता दें कि इस हमले में कम से कम 10 आम नागरिक घायल हुए हैं। अभी तक किसी भी आतंकी या कट्टरपंथी संगठन ( Terrorist Organization ) ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, स्थानीय मीडिया फुटेज में क्षतिग्रस्त कई वाहनों को दिखाया गया है। शुरुआती रिपोट्स में कम से कम तीन नागरिकों के घायल होने की सूचना मिली थी। हालांकि अभी तक कम से कम 10 नागरिकों के घायल होने की खबर है। सभी घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

काबुल: मौलवी और धर्म गुरुओं को आतंकियों ने बनाया निशाना, आत्मघाती हमले में 14 की मौत

मौके पर मौजूद एक शख्स ने बताया है कि हमने वजीर अकबर खान की स्ट्रीट नंबर 15 में एक बड़ा धमाका सुना, जहां दर्जनों दूतावास और दफ्तर हैं। धमाके के बाद पूरी जगह को अब सील कर दिया गया है।

तालिबानी कैदियों को रिहा करने से सरकार का इनकार

आपको बता दें कि यह हमला सरकार की ओर से 320 तालिबानी कैदियों ( Talibani Prisoners ) को रिहा करने से इनकार करने के ठीक एक दिन बाद हुआ है। बीते दिन अफगान सरकार ने तालिबानी कैदियों को रिहान करने से इनकार कर दिया था। सरकार ने कहा था कि जब तक अफगान सैनिकों ( Afghanistan Army ) को विद्रोहियों के कब्जे से मुक्त नहीं किया जाता, तब तक तालिबानी कैदियों को रिहा नहीं किया जाएगा

Afghanistan: तालुकान सिटी के एक School की इमारत में भीषण आग, दूसरी मंजिल जलकर खाक

तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने कहा कि उन्हें काबुल में मोर्टार हमले की जानकारी नहीं है। इससे पहले स्लामिक स्टेट समूह ( Islamic State ) के सहयोगी जो अफगानिस्तान में काम करते हैं, ने रॉकेट हमला कर राष्ट्रीय समारोहों को बाधित किया है। मंगलवार की सुबह अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ( Afghan President Ashraf Ghani ) ने काबुल में रक्षा मंत्रालय में स्वतंत्रता दिवस समारोह में भाग लिया। इस दौरान उन्होंने गार्ड ऑफ ऑनर का निरीक्षण किया और वहां के स्वतंत्रता मीनार स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित की।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned