इंडोनेशिया: लंबोक क्षेत्र में 5.5 तीरता का भूकंप, इलाके को खाली कराया गया

इंडोनेशिया: लंबोक क्षेत्र में 5.5 तीरता का भूकंप, इलाके को खाली कराया गया

Siddharth Priyadarshi | Publish: Dec, 06 2018 08:12:14 AM (IST) | Updated: Dec, 06 2018 08:12:15 AM (IST) एशिया

आशंका जताई जा रही है कि यह भूकंप किसी तेज भूकंप का पूर्वाभास हो सकता है

जकार्ता। भूकंप के झटकों से इंडोनेशिया एक बार फिरसे दहल उठा है। इंडोनेशिया के लंबोक क्षेत्र में 5.5 तीव्रता के भूकंप से हड़कंप मच गया है। फिलहाल इस भूकंप से अभी तक किसी क्षति की रिपोर्ट नहीं है। हताहतों के बारे में भी अभी कोई जानकारी नहीं दी जा रही है। फिलहाल प्रभावित इलाकों को खाली करा लिया गया है।

छोटे कपड़े पहनने पर महिला पत्रकार को संसद से बाहर निकाला, देश भर में बवाल

एक और भूकंप

समाचार एजेंसी की खबरों में बताया गया है कि इंडोनेशिया में 5.5 परिमाण के भूकंप ने रात्रि 1 बजे के आसपास तेज झटका दिया। भूकंप के बाद लंबोक इलाके में खलबली मच गई। पुलिस और आपदा एजेंसियों ने एहतियातन इलाके को खाली करा लिया है। हालांकि खबरों में बताया गया है अब भी बहुत से लोग अपने ही घरों में पड़े हुए हैं। आशंका जताई जा रही है कि यह भूकंप किसी तेज भूकंप का पूर्वाभास हो सकता है। भूकंप से फिलहाल सुनामी का कोई खतरा नहीं है।

अमरीका की पाकिस्तान को नसीहत, पीएम मोदी के शांति प्रयासों में साथ दें

पिछले सप्ताह भी आया था भूकंप

बता दें कि इंडोनेशिया में पिछले सप्ताह भी भूकंप आया था। बीते कुछ महीनों से इंडोनेशिया भूकंप से आपदाग्रस्त है। पिछले सप्ताह देश के पश्चिमी सुलावेसी प्रांत में भूस्खलन और भूकंप से सात लोगों की मौत हो गई और आठ हजार से ज्यादा लोगों को अपने घर छोड़ा पड़ा। आपदा प्रबंधन एजेंसी की पुनर्वास एवं पुनर्निर्माण इकाई के प्रमुख पसमबोअन पंगलोली ने बताया कि पीड़ितों की मौत उन्हें सुरक्षित बाहर निकालने के दौरान हुई थी। बता दें कि 5 अगस्त को इंडोनेशिया के लॉमबोक में आये भूकंप में 460 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी। इसके बाद सितंबर में सुलावेसी द्वीप पर आये भूकंप और सुनामी में 380 से ज़्यादा लोगों की मौत हो गई थी। पालू शहर पूरी तरह तबाह हो गया था।

Ad Block is Banned