बालाकोट एयरस्ट्राइक: साल भर बीतने के बाद भी बाज नहीं आ रहा पाकिस्तान, दुष्प्रचार की करेगा नुमाइश

  • पाकिस्तान के बालाकोट (Balakot) पर 26 फरवरी 2019 को IAF ने की थी एयरस्ट्राइक (Airstrike)
  • 'चार मिसाइलों के टुकड़ों की प्रदर्शनी' लगा रहा है पाकिस्तान

By: Shweta Singh

Updated: 27 Feb 2020, 09:31 AM IST

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ( Pakistan ) बीते साल 27 फरवरी को भारतीय और पाकिस्तानी वायुसेना के बीच की मुठभेड़ को लगातार तोड़ मरोड़कर पेश करता आया है। अब बालाकोट एयरस्ट्राइक ( Balakot Airstrike ) घटना के बीतने के साल भर बाद भी पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। पाकिस्तान ने इस घटना से जुड़े तथ्यों को विकृत कर इसे एक दुष्प्रचार ( Fake Propaganda ) का हथियार बनाने की कोशिश की है और वह बाकायदा इसकी नुमाइश ( Display ) करने जा रहा है।

'चार मिसाइलों के टुकड़ों की प्रदर्शनी'

पाकिस्तानी मीडिया की मंगलवार की रिपोर्ट में कहा गया, 'बीते साल पाकिस्तानी वायुसेना द्वारा एक भारतीय मिग-21 विमान को मार गिराने की घटना को पाकिस्तानी वायुसेना जोरशोर से याद कर रही है। पाकिस्तानी वायुसेना के मुख्यालय में इस भारतीय विमान के टुकड़ों और उन चार मिसाइलों के टुकड़ों की प्रदर्शनी लगाई गई है जो विमान से दागी नहीं जा सकी थीं।' यह नहीं झूठ की माला पिरो रहे पाकिस्तान की मीडिया रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है, 'सभी मिसाइलों के टुकड़ों का होना इस बात का प्रमाण है कि भारत का यह दावा गलत है कि उसके लड़ाकू विमान ने पाकिस्तानी विमान को मार गिराया था। पाकिस्तानी वायुसेना के अधिकारियों ने कहा है कि 27 फरवरी 2019 का दिन उनकी फोर्स के लिए ऐतिहासिक है।'

Balakot Air Strike Anniversary: इस दिन दुश्मन ने देखा था भारतीय जाबांजो का साहस, जानें कैसे दिया गया था मिशन को अंजाम

बालाकोट पर 26 फरवरी 2019 को एयरस्ट्राइक

जानकारी मिल रही है कि अपने प्रोपेगैंडे को और हवा देने के लिए पाकिस्तानी वायुसेना की मीडिया शाखा ने 27 फरवरी 2019 की घटना पर एक गाना भी लॉन्च किया है। गौरतलब है पाकिस्तान समर्थित आतंकियों द्वारा पुलवामा में भारतीय BSF जवानों पर किए गए हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट पर 26 फरवरी 2019 को धावा बोला था। इस दौरान IAF ने कई आतंकियों को ढेर कर जवानों की शहादत का बदला लिया था।

भारतीय Mig-21 ने पाकिस्तान के एक F-16 विमान को मार गिराया था

इसके बाद 27 फरवरी को पाकिस्तानी वायुसेना के विमानों ने जम्मू-कश्मीर के नौशेरा में घुसने का दुस्साहस किया जिसे भारतीय वायुसेना ने विफल कर दिया था। भारतीय वायुसेना के विमानों ने इन्हें इंटरसेप्ट किया और उनकी कोशिश को विफल कर दिया। इस दौरान भारतीय Mig-21 ने पाकिस्तान के एक F-16 विमान को मार गिराया। भारत ने इस संघर्ष में अपना एक मिग भी खोया लेकिन इसके पायलट अभिनंदन सुरक्षित निकल गए। हालांकि, उनका पैराशूट पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर की तरफ चला गया। उन्हें पाकिस्तानी सेना ने पकड़ लिया लेकिन भारत के सख्त तेवर के बाद पाकिस्तान ने उन्हें वापस भारत को सौंप दिया था।

Shweta Singh Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned