पाकिस्तान पर चीन मेहरबान, रेलवे ढांचे को मजबूत करने के लिए देगा 8 अरब डॉलर ऋण

पाकिस्तान पर चीन मेहरबान, रेलवे ढांचे को मजबूत करने के लिए देगा 8 अरब डॉलर ऋण

| Updated: 13 Apr 2018, 04:59:59 PM (IST) एशिया

सीपीईसी परियोजना के तहत चीन पाकिस्तान में रेलवे ढांचे को मजबूत करेगा। इसके लिए चीन की तरफ से पाकिस्तान को 8 अरब डॉलर का ऋण दिया गया है।

इस्लामाबादः रेलवे नेटवर्क को अपग्रेड करने के लिए चीन पाकिस्तान को 8 अरब डॉलर (करीब 522 करोड़ रुपए) ऋण देगा। कराची से पेशावर तक 1,163-मील की दूरी पर अफगान सीमा तक पाकिस्तान अपने रेलवे नेटवर्क को बढ़ाएगा। चीन की तरफ से दिया जाने वाला यह पैसा चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) के तहत दिया जाएगा। पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक सहायता उस 60 अरब डॉलर का हिस्सा है जो चीन पाक के विकास के लिए खर्च कर रहा है।

इस साल शुरु होगा काम
पाकिस्तान के आंतरिक मामलों के मंत्री एहसान इकबाल ने कहा कि इस साल रेलवे नेटवर्क को बढ़ाने का काम शुरु कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि चीन से आर्थिक मदद मिलने में देरी के कारण इस परियोजना का पहला चरण शुरु नहीं हो पाया था। इस परियोजना के तहत पाकिस्तान तीन सौ से ज्यादा रेल इंजन खरीदेगा। इसके अलावा एक हजार यात्री डिब्बे भी खरीदेगे जाएंगे। एहसान इकबाल ने बताया कि माल ढुलाई के लिए पाकिस्तान पांच हजार रेल डिब्बे भी खरीदेगा। इसके तहत 31 रेलवे स्टेशन भी बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस परियोजना के तहत पिछले साल 75 इलेक्ट्रॉनिक रेल इंजन खरीद चुका है। इकबाल ने बताया कि लाहौर में 1.6 डॉलर की मेट्रो लाइन चीन की सहायता से ही बनाई गई है।

पाक पर मेहरबान चीन
दरअसल पाकिस्तान को चीन रेलवे नेटवर्क को बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है। इसके लिए वह उसकी आर्थिक मदद भी कर रहा है। सीपीईसी परियोजना के तहत चीन दक्षिण एशियाई देशों से जुड़ने के लिए रेल जैसी परिवहन के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने पर जोर दे रहा है। सॉफ़्टवेयर व्यवसायी फारुख मलिक का कहना है कि जब वे बच्चे थे तब कराची से इस्लामाबाद जाने के लिए करीब 22 घंटे लगते थे लेकिन रेलवे नेटवर्क को अपग्रेट करने से दूरी कम हो जाएगी। उन्होंने कहा कि चीन की मदद से पाकिस्तान में रेलवे की स्पीड भी पहले से सुधरी है।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned