भारत में बने कोरोना वैक्सीन की चीन ने की तारीफ, कहा- क्वालिटी में है बेहतर और कीमत भी कम

HIGHLIGHTS

  • Corona Vaccine In India: चीन ने कहा कि दक्षिण एशियाई पड़ोसी देश में बने वैक्सीन की गुणवत्ता ( Corona Vaccine Quality ) किसी भी मामले में पीछे नहीं है।
  • ग्लोबल टाइम्स ने कहा कि दुनिया में भारत सबसे बड़ा वैक्सीन निर्माता है और श्रम कीमतों में कमी और अच्छी सुविधाओं के चलते उनके टीकों की कीमत भी कम है।

By: Anil Kumar

Updated: 10 Jan 2021, 11:18 PM IST

बीजिंग। कोरोना महामारी ( Corona Epidemic ) से जूझ रही दुनिया में लोगों को वैक्सीन आने से उम्मीदें काफी बढ़ गई है, लेकिन कई देशों में वैक्सीन के साइड इफैक्ट की खबरें सामने आने के बाद लोगों में चिंता भी है। चीनी कोरोना वैक्सीन पर दुनियाभर में संदेह किया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर भारत द्वारा बनाए गए वैक्सीन की दुनियाभर में तारीफ की जा रही है।

अब चीन ने भी आधे-अधूरे मन से ही सही लेकिन भारत द्वारा विकसित कोरोना वैक्सीन की तारीफ की है। चीन ने भारत का नाम लिए बिना कहा कि दक्षिण एशियाई पड़ोसी देश में बने वैक्सीन की गुणवत्ता ( Corona Vaccine Quality ) किसी भी मामले में पीछे नहीं है।

कोवैक्सीन का ट्रायल डोज लगाने वाले वॉलंटियर की मौत, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जहर मिलने की पुष्टि

चीन कम्युनिस्ट पार्टी (China Communist Party) के मुखपत्रन ग्लोबल टाइम्स (Global Times) में प्रकाशित एक लेख में चीनी विशेषज्ञों ने एक मत में ये कहा है कि भारत द्वारा बनाए गए कोरोना वैक्सीन चीनी टीकों के मुकाबले किसी भी स्तर पर कम नहीं है। विशेषज्ञों ने यह भी माना कि भारतीय टीके रिसर्च और प्रोडक्शन क्षमता में किसी भी स्तर पर कमतर नहीं हैं।

भारत द्वारा विकसित वैक्सीन की कीमत कम

चीनी विशेषज्ञों का कहना है कि भारत अपने वैक्सीन को निर्यात करने की योजना बना रहा है, जो कि वैश्विक बाजार के लिए अच्छी खबर है। हालांकि भारत ने यह कदम चीनी टीकों के मुकाबले अपनी वैश्विक राजनीतिक और आर्थिक दखल बढ़ाने के उद्देश्य से उठाया है।

कोरोना वैक्सीन: पहले चरण में 4 लाख हेल्थ वर्करों को लगेगा टीका, 4 जिलों में बनाए गए हैं कोल्ड चैन स्टोर

ग्लोबल टाइम्स ने कहा कि दुनिया में भारत सबसे बड़ा वैक्सीन निर्माता है और श्रम कीमतों में कमी और अच्छी सुविधाओं के चलते उनके टीकों की कीमत भी कम है। भारत जेनेरिक दवाओं के मामले में नंबर एक पर है और वह वैक्सीन बनाने में चीन से भी पीछे नहीं है।

बीबीसी की एक रिपोर्ट के हवाले से ग्लोबल टाइम्स ने कहा है कि भारत लगभग 60 फीसद टीके का उत्पादन करता है और कई देश कोरोना टीके की खुराक भेजे जाने का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned