दक्षिणी चीन सागर विवाद, चीन ने लड़ाकू विमानों की तैनाती की

अमरीकी खुफिया विभाग ने दक्षिणी चीन सागर के समीप चीन के दो लड़ाकू विमान शेनयांग जे -11 और शियान जेएच-7 के देखे जाने की पुष्टि की

By: राकेश मिश्रा

Published: 24 Feb 2016, 08:29 AM IST

वॉशिंगटन। चीन ने विवादित दक्षिणी चीन सागर के समीप लड़ाकू जेट विमानों की तैनाती की है। फॉक्स समाचार चैनल ने अमरीकी अधिकारियों के हवाले से बताया कि अमरीकी खुफिया विभाग ने दक्षिणी चीन सागर के समीप चीन के दो लड़ाकू विमान शेनयांग जे -11 और शियान जेएच-7 के देखे जाने की पुष्टि की है।

चीन ने इन लड़ाकू विमानों को दक्षिणी चीन सागर के उसी स्थान पर तैनाती की है जहां पहले उसने सतह से हवा में मार करने वाले मिसाइलों की तैनाती की थी। गौरतलब है कि विवादित दक्षिणी चीन सागर पिछले चालीस साल से भी अधिक समय से चीन के नियंत्रण में है, लेकिन इस पर ताईवान और वियतनाम भी दावे करते हैं।

सागर में अकूत संपदा
1770 करोड़ टन कच्चा तेल की मौजूदगी का दावा करता है चीन
25.50 लाख करोड़ घन मीटर प्राकृतिक गैस का है अनुमान

इसलिए विवाद
चीन दक्षिणी चीन सागर के 80 फीसदी इलाके पर दावा करता है, जबकि पड़ोसी देश उसके दावे का प्रतिवाद करते और इस क्षेत्र के द्वीपों पर अपना दावा करते हैं।
अक्तूबर 2015 में समझौते के तहत वियतनाम ने भारत को दो तेल के ब्लॉक ऑफर किए थे।
ये दोनों ऑयल ब्लॉक वियतनाक के विशेष आर्थिक जोन में आते हैं, चीन का दावा यह उसका क्षेत्र।

ये देश भी दावेदार
चीन के अलावा ब्रूनेई, ताइवान, फिलीपींस, मलेशिया , वियतनाम भी चीन सागर पर करते हैं दावा।

राकेश मिश्रा Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned