कोविड संकटः चीन के विदेश मंत्रालय का बयान, भारत की मदद के लिए तैयार जिनपिंग सरकार

भारत में गुरुवार को संक्रमण के 3 लाख 14 हजार 835 नए मामले दर्ज किए गए हैं। यह दुनिया का एक दिन में सबसे बड़ा आंकड़ा बताया जा रहा है।

By: Mohit Saxena

Published: 23 Apr 2021, 06:05 PM IST

नई दिल्ली। भारत में बढ़ रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामलों को लेकरं चीन ने भी अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। पड़ोसी मुल्क ने शुक्रवार को बताया कि वे इस संकट की स्थिति में भारत से बातचीत करने को तैयार है। खास बात है कि इससे एक दिन पहले चीन ने भारत को मदद की पेशकश की थी। भारत में गुरुवार को संक्रमण के 3 लाख 14 हजार 835 नए मामले दर्ज किए गए हैं। यह दुनिया का एक दिन में सबसे बड़ा आंकड़ा बताया जा रहा है।

Read More: रूस ने इंटरनेशल स्पेस स्टेशन को 2025 तक अलविदा कहने का मन बनाया, बताया ये कारण

भारत से बात करने को तैयार

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि वे भारत से बात करने को तैयार हैं। चीन भारत की जरूरत के अनुसार खास मुद्दों पर बातचीत करने को तैयार है। गुरुवार को चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेन्बिन का कहना था कि बीजिंग इस बात को जानता है कि भारत में हालात गंभीर होते जा रहे हैं। साथ ही यहां महामारी को रोकने के लिए जरूरी चीजों की कमी है।

चीन जरूरी मदद और समर्थन देगा

वांग की ये प्रतिक्रिया चीन की आधिकारिक मीडिया की तरफ से पूछे सवाल पर आई है। मीडिया ने पूछा था कि भारत में फैल रही महामारी को देखते हुए चीन क्या कार्रवाई कर रहा है। वांग का कहना है कि चीन जरूरी मदद और समर्थन देने को तैयार है। हालांकि इस दौरान उन्होंने इसकी जानकारी नहीं दी कि इस मदद में क्या शामिल होगा।

Read More: कोरोना की दूसरी लहर से भारत में हाहाकार, खुद संक्रमण से जूझ रहे पाकिस्तान ने की मदद की पेशकश

भारत ने चीन को 15 टन की मेडिकल सप्लाई पहुंचाई थी

प्रेस के सवाल के जवाब में वांग ने कहा कि नोवल कोरोना वायरस पूरी इंसानियत का दुश्मन है। वैश्विक समुदाय को ऐसी महामारियों से लड़ने के लिए एक होने की आवश्यकता है। बीते साल भारत उन देशों में शामिल था, जिसने बीजिंग को भारी मात्रा में मेडिकल सुविधाएं उपलब्ध कराई थीं। उस दौरान चीन में कोविड.19 के हालात ज्यादा गंभीर थे। भारत ने चीन को 15 टन की मेडिकल सप्लाई पहुंचाई थी। इसमें मास्क, ग्लव्ज और अन्य सामान थे।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned