हांगकांग मामले पर चीन ने अमरीका समेत पांच देशों को दी धमकी, कहां- इधर देखा तो आंखें निकाल लेंगे

HIGHLIGHTS

  • Hong Kong Issue: हांगकांग मामले पर दुनियाभर में आलोचना झेल रहे चीन ने बौखलाहट में आकर अमरीका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रोलिया, न्यूजीलैंड और कनाडा को धमकी देते हुए कहा है कि यदि इस ओर देखा तो उसकी आंखें निकाल लेंगे।
  • अमरीका समेत ये पांचों देश खुफिया साझेदारी के लिए एकजुट हुए हैं। पांचों देशों के इस ग्रुप को ‘फाइव आइज’ कहा जाता है।

By: Anil Kumar

Updated: 20 Nov 2020, 11:10 PM IST

बीजिंग। कोरोना वायरस ( Coronavirus ) को लेकर दुनियाभर में घिर चुके चीन की मुश्किलें बढ़ने लगी है। वहीं हांगकांग मामले ( Hong Kong issue ) पर भी चीन की मुसीबतें बढ़ रही है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बढ़ते दबाव के बीच चीन ने अमरीका समेत पांच देशों को धमकी दी है।

हांगकांग मामले पर दुनियाभर में आलोचना झेल रहे चीन ने बौखलाहट में आकर अमरीका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रोलिया, न्यूजीलैंड और कनाडा को धमकी देते हुए कहा है कि यदि इस ओर देखा तो उसकी आंखें निकाल लेंगे।

Hong Kong पर America के सख्त तेवर से भड़का China, कहा- अब तूफान का सामना करने के लिए रहें तैयार

दरअसल, अमरीका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा और न्यूजीलैंड की ओर से हांगकांग को लेकर एक साझा बयान जारी किया गया, जिसपर प्रतिक्रिया देते हुए चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने ये आक्रामक और तीखा बयान दिया है। अमरीका समेत ये पांचों देश खुफिया साझेदारी के लिए एकजुट हुए हैं। पांचों देशों के इस ग्रुप को ‘फाइव आइज’ कहा जाता है।

लिजियान ने तीखा बयान देते हुए कहा- इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है कि उनकी पांच आंखें हैं या 10 आंखें। यदि वे चीन की संप्रभुता, सुरक्षा और विकास के हितों को चोट पहुंचाएंगे तो उन्हें पता होना चाहिए कि उनकी आंखें फोड़ दी जाएंगी।

हांगकांग में नियमों का उल्लंघन कर रहा चीन

आपको बता दें कि अमरीका समेत पांच देशों ने इस हफ्ते ये कहा था कि चीन हांगकांग में नियमों का उल्लंघन कर रहा है। पांचों देशों के विदेश मंत्रियों ने एक साझा बयान में कहा था कि चीन सरकार की नई प्रस्तावना में लोकतंत्र समर्थक सांसदों को अयोग्य ठहराने के लिए चीन ने जो नियम बनाए हैं वह गलत है और आलोचकों की जुबान को बंद करने वाला है।

Hongkong के मुद्दे पर चीन को घेरा, अमरीका ने कम्युनिस्ट पार्टी के अधिकारियों के वीजा पर रोक लगाई

संयुक्त बयान में चीन की आलोचना करते हुए कहा गया था। बता दें कि ब्रिटेन ने 1997 में एक समझौते के तहत हांगकांग को चीन को सौंप दिया था, लेकिन इस समझौते में यह भी निर्धारित किया गया था कि 50 वर्षों बाद हांगकांग को स्थानीय मामलों में स्वायत्तता दी जाएगी। हालांकि अब चीन ने हांगकांग की स्वायत्तता को खत्म करते हुए नया सुरक्षा कानून लागू कर दिया है, जिसके बाद से दुनियाभर में इसकी आलोचना हो रही है। हांगकांग की आबादी लगभग 75 लाख है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned