China: राष्ट्रपति जिनपिंग की नापाक चाल, कहा- दुनिया में कोरोना से उथल-पुथल का दौर, मौके का फायदा उठाए बीजिंग

HIGHLIGHTS

  • चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ( Xi Jinping ) ने कहा कि पूरे विश्व में कोरोना के कारण अभूतपूर्व उथल-पुथल मची है, जो कि यह हमारे (चीन) लिए पूरी तरह अनुकूल है, लिहाजा हमें इस मौके का फायदा उठाना चाहिए।
  • जिनपिंग ने सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के सामने अपनी नीति को स्पष्ट करते हुए कहा कि अगले तीस वर्षों में पूरी तरह से चीन का कायापल्ट करना है।

By: Anil Kumar

Updated: 12 Jan 2021, 07:23 PM IST

बीजिंग। कोरोना महामारी ( Corona Epidemic ) से पूरी दुनिया जूझ रही है और इससे अब तक लाखों लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि करोड़ों लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं। वहीं, दुनियाभर में लाखों लोग बेरोजगार हो चुके हैं और दुनियाभर की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है।

पूरी दुनिया में उथल-पुथल का दौर है। ऐसे में चीन एक साजिश के तहत इसका फायदा उठाने की नापाक चाल चल रहा है। चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ( Xi Jinping ) ने कहा कि पूरे विश्व में कोरोना के कारण अभूतपूर्व उथल-पुथल मची है। यह हमारे (चीन) लिए पूरी तरह अनुकूल है, लिहाजा हमें इस मौके का फायदा उठाना चाहिए। जिनपिंग ने सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के सामने अपनी नीति को स्पष्ट करते हुए ये बात कही है। जिनपिंग अगले तीस वर्षों में पूरी तरह से चीन को बदलने की दिशा में काम करने में जुटा है।

China ने अब रूसी इलाके पर किया दावा, कहा- 1860 से पहले हमारा था व्लादिवोस्तोक

बता दें कि माओ के बाद सबसे ताकतवर नेता के तौर पर उभरे शी जिनपिंग ने सोमवार को कम्युनिस्ट पार्टी के बड़े नेताओं को संबोधित करते हुए अपने इरादे से अवगत कराया। अपने भाषण में उन्होंने ये स्पष्ट कर दिया कि चीन को मौजूदा परिस्थिति का फायदा उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी, पश्चिम से बिगड़ते संबंध और धीमी आर्थिक व्यवस्था के बावजूद यह समय और अवसर दोनों ही चीन के लिए अनुकूल हैं।

30 सालों में तय करना है विकास का नया रास्ता: जिनपिंग

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अपने संबोधन में कहा है कि हमें (हमारे नागरिकों) अगले 30 सालों में विकास का एक नया रास्ता तय करना है। इससे हम और अधिक शक्तिशाली और धनी हो सकें। उन्होंने कहा कि पूरे विश्व की संरचना में बदलावा आ रहा है और ऐसे में चुनौतियां और खतरे भी बढ़ने वाले हैं। ऐसी जटिल चुनौतियों से निपटने के लिए हमें तैयार रहना है और अधिक तैयारी करनी है।

China की भारत को घेरने की कोशिश, बांग्लादेश से रणनीतिक साझेदारी बढ़ाने की चली चाल

जिनपिंग ने इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए 14वीं पंचवर्षीय योजना (1921-1925) के नए विकास दर्शन को लागू करने की जरूरत पर जोर दिया।

आपको बता दें कि चीन लगातार विस्तारवादी नीतियों पर चलते हुए आगे बढ़ता जा रहा है। यही कारण है कि कई देशों के साथ चीन का विवाद है। ऐसे में चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग का ये कहना आने वाले दिनों में दुनिया के सामने और भी अधिक चुनौतियां पेश करेंगी।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned