Coronavirus: चीन में महिलाओं को माहवारी रोकने के लिए दी जा रही हैं गर्भनिरोधक दवाईयां

HIGHLIGHTS:

  • महिलाएं माहवारी संबंधी प्रॉडक्ट न मिलने, खराब फिटिंग वाले सुरक्षात्मक सूट और सिर मुंडवाने जैसी समस्याओं से जूझ रही हैं
  • महिलाओं को सैनिटरी उत्पाद ( Sanitary products ) जैसे जरूरी चीजें नहीं मिल पा रहीं हैं
  • चीन में कोरोना वायरस से अब तक 3 हजार से अधिक की मौत चुकी है

By: Anil Kumar

Updated: 07 Mar 2020, 07:15 PM IST

बीजिंग। चीन में जानलेवा कोरोना वायरस ( Coronavirus ) का कहर बढ़ता जा रहा है और लोगों में इसके साथ खौफ भी बढ़ रहा है। इस बीच चीन से एक बड़ी खबर सामने आई है। कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए जो तौर तरीके अपनाए जा रहे हैं, उसको लेकर महिलाओं में गहरा आक्रोश पैदा हो गया है।

दरअसल, महिलाओं को माहवारी ( menstruation ) रोकने के लिए गर्भनिरोधक दवाईयां ( contraceptive medicines ) दी जा रही है। साथ ही महिलाएं माहवारी संबंधी प्रॉडक्ट न मिलने, खराब फिटिंग वाले सुरक्षात्मक सूट और सिर मुंडवाने जैसी समस्याओं से जूझ रही हैं। इसको लेकर महिलाओं में आक्रोश पैदा हो गया है।

Coronavirus से इटली में बरपा कहर, एक ही दिन में 49 की मौत

महिला कार्यकर्ताओं का कहना है कि जब दुनियाभर में रविवार को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस ( International Women Day ) मनाया जाने वाला है, तब चीन में महिलाएं इस तरह के संकट से निपटने से जूझ रही हैं। महिला कार्यकर्ताओं को अपने सुरक्षात्मक सूट को संरक्षित रखने के लिए शौचालयों का इस्तेमाल न करने को कहा गया है। ऐसे में अब सरकार के भेदभावपूर्ण कदमों को लेकर महिलाएं एकजुट हो रही हैं।

महिलाओं को नहीं मिल रहा सैनिटरी उत्पाद

चीन में कोरोना के बढ़ते खतरे के मद्देजनजर उसके रोकथाम के लिए कई तरह के कदम उठाए जा रहे हैं। इस बीच महिलाओं को सैनिटरी उत्पाद ( Sanitary products ) जैसे जरूरी चीजें नहीं मिल पा रहीं हैं। इसको लेकर महिलाओं में काफी नाराजगी है।

शंघाई की रहने वाली 24 वर्षीय जियांग जिनजिंग ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म वीबो पर इस मामले को उठाया, जिसपर हजारों महिलाओं ने टिप्पणी कर अपना समर्थन जताया है। जिनजिंग ने सैनिटरी उत्पादों को दान देने का अभियान शुरू किया है। जियांग ने कहा, 'कई महिला चिकित्सा कर्मी संदेश भेज रही हैं कि माहवारी के कारण उन्हें काफी दिक्कतें हो रही हैं।'

Coronavirus: कोरोना के खौफ से यात्री रेल यात्रा से बना रहे दूरी, रोजाना 200 टिकट हो रहे कैंसिल

जियांग की ओर से अभियान शुरू करने के बाद कई लोग और कंपनियां सामने आई हैं और अब 600,000 से अधिक सैनिटरी पैड और माहवारी से बचाव वाले अंतर्वस्त्र भेज रहे हैं। हालांकि कुछ अस्पतालों ने दान देने से इनकार कर दिया। अस्पतालों का कहना है कि वे इस अभियान को लेकर जागरूक नहीं है।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Coronavirus in China Coronavirus Outbreak China Coronavirus outbreak
Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned