तालिबान के पूर्व प्रवक्ता एहसानुल्लाह का सनसनीखेज खुलासा, PAK कई हस्तियों की कराना चाहता था हत्या

HIGHLIGHTS

  • तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान ( Tehreek-e-Taliban Pakistan ) और जमात-उल-अहरार ( Jamaat-ul-Ahrar ) के पूर्व प्रवक्ता एहसानुल्लाह एहसान ( Ehsanullah Ehsan ) ने खुलासा किया है कि पाकिस्तान कई बड़ी हस्तियों की हत्या कराना चाहता था
  • साल 2012 में मलाला यूसुफजई पर हमला करने और साल 2014 में पेशावर आर्मी स्कूल पर आतंकी हमले को अंजाम देने के मामले में एहसानुल्लाह को दोषी करार देते हुए जेल भेजा गया था

By: Anil Kumar

Updated: 21 May 2020, 06:58 AM IST

इस्लामाबाद। आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने और आतंकियों को पालन-पोषण करने के मामले में पूरी दुनिया में बदनाम पाकिस्तान ( Pakistan ) की पोल एक बार फिर से खुल गई है। दरअसल, पाकिस्तान को लेकर एक सनसनीखेज खुलासा हुआ है। यह खुलासा तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान ( Tehreek-e-Taliban Pakistan ) और जमात-उल-अहरार ( Jamaat-ul-Ahrar ) का पूर्व प्रवक्ता एहसानुल्लाह एहसान ( Ehsanullah Ehsan ) ने किया है।

एहसानुल्लाह एहसान ने बताया है कि पाकिस्तान कई बड़ी हस्तियों की हत्या कराना चाहता था। उन्होंने बताया कि पाकिस्तान चाहता था कि तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान कई बड़ी हस्तियों की हत्या कर दे। एहसानुल्लाह ने आगे खुलासा किया है कि जब मैं जेल में बंद था, तब पाकिस्तान की खुफिया एजेंसियों ने उसको पाकिस्तान के दुश्मनों को मारने को कहा था। हालांकि उसने पाकिस्तान के इस पेशकश को ठुकरा दिया। उन्होंने कहा कि वह किसी और युद्ध या प्रॉक्सी वॉर में शामिल नहीं होना चाहता था।

Corona Effect: ट्रंप ने कहा- कोरोना से बचाव के लिए अभी हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन एक मात्र विकल्प

एहसानुल्लाह ने आगे यह भी खुलासा किया है कि जब उसने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों के इस पेशकश को ठुकरा दिया, उसपर तरह-तरह के दबाव बनाया गया, लेकिन उसने अपना फैसला नहीं बदला।

मलाला यूसुफजई पर हमला करने का दोषी है एहसानुल्ला

एहसानुल्लाह ने यह दावा किया कि पाकिस्तान ने एक लिस्ट उनको सौंपी थी, जिसमें उन सभी लोगों की नाम लिखा था, जिनको वे मारना चाहते थे। हालांकि एहसानुल्ला ने किसी एक भी हस्ति के नाम का खुलासा नहीं किया है।

आपको बता दें कि साल 2012 में मलाला यूसुफजई पर हमला करने और साल 2014 में पेशावर आर्मी स्कूल पर आतंकी हमले को अंजाम देने के मामले में एहसानुल्लाह को दोषी करार देते हुए जेल भेजा गया था। हालांकि वह इसी साल जेल से फरार हो गया। उसके बाद उसने एक ऑडियो क्लिप जारी करते हुए के जेल से भागने की बात बताई थी।

गिलगिट-बाल्टिस्तान में PAK की साजिश, राष्ट्रपति अल्वी ने दिया चुनाव कराने के आदेश, भारत ने जताया कड़ा विरोध

ऑडियो क्लिप में उसने कहा था, 'अल्लाह की मदद से मैं 11 जनवरी, 2020 को सुरक्षा बलों की जेल से भागने में सफल रहा'। उसने पाकिस्तानी सेना पर वादे पूरा करने का आरोप लगाया था।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned