अफगानिस्तान में चुनावी रैली को आतंकियों ने बनाया निशाना, दो लोगों की मौत

अफगानिस्तान में चुनावी रैली को आतंकियों ने बनाया निशाना, दो लोगों की मौत

mangal yadav | Publish: Oct, 13 2018 07:42:29 PM (IST) एशिया

एक चुनावी रैली में बम ब्लास्ट से दो लोगों की मौत हो गई, जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हैं।

काबुलः अफगानिस्तान के हेरात प्रांत में शनिवार को एक चुनावी रैली में बम ब्लास्ट से दो लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में एक सुरक्षाकर्मी और एक बच्चा शामिल है। विस्फोटक में दो अन्य लोग घायल भी हुए हैं। बताया जा रहा है कि हेरात प्रांत के एनजिल जिले में एक संसदीय उम्मीदवार की चुनावी रैली हो रही थी तभी अचानक बम विस्फोट हो गया जिसकी वजह से वहां पर अफरा-तफरी मच गई। फिलहाल अभी तक किसी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है लेकिन माना जा रहा है कि यह हमला तालिबान ने किया है।

तखार प्रांत में भी हुआ आतंकी हमला

इससे पहले तखार प्रांत के रोस्तक जिले में भी एक चुनाव रैली में बम विस्फोट हुआ। इस विस्फोट में एक एनडीएस अधिकारी और पुलिसकर्मी समेत 12 लोगों की मौत हो गई। इस धमाके में 32 लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं। बताया जा रहा है कि यह हमला संसदीय चुनाव लड़ रहीं महिला प्रत्याशी नजीफा बेग की चुनाव रैली में हुआ। बता दें कि एक धमाका बीते मंगलवार को भी हुआ था। लश्करगाह शहर में हुए इस धमाके में आठ लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 10 लोग घायल हुए थे। यह हमला संसदीय चुनावी रैली के दौरान ही एक प्रत्याशी के कार्यालय के बाहर हुआ था। हालांकि अब तक किसी भी आतंकी समूह ने इन हमलों की जानकारी नहीं ली है।

चुनावी हमलों में मारे गए छह दर्जन लोग
दरअसल, अफगानिस्तान में संसदीय और जिला परिषदों के चुनाव होने हैं। चुनावों के चलते हिंसा के मामले तेजी से बढ़ गए हैं। 20 अक्टूबर को होने वाले संसदीय चुनाव के लिए 33 प्रांतों से 249 उम्मीदवार खड़े हुए हैं। इस साल अफगानिस्तान में सिर्फ चुनावी रैलियों के दौरान हुए हमलों में करीब छह दर्जन लोग जान गंवा चुके हैं। मृतकों में सात चुनावी उम्मीदवार भी शामिल थे।

Ad Block is Banned