scriptGermany Rejects Request Of Pakistan To give Air Independent Propulsion | आखिर क्यों Pakistan की मांग को जर्मनी ने ठुकराया, इस तकनीक को देने से किया इनकार | Patrika News

आखिर क्यों Pakistan की मांग को जर्मनी ने ठुकराया, इस तकनीक को देने से किया इनकार

Highlights

  • पाकिस्तान (Pakistan) ने अपनी पनडुब्बियों के लिए एयर इंडिपेंडेंट प्रोपल्शन (AIP) मांगा था।
  • 2017 में काबुल (Kabul) में जर्मनी के दूतावास के पास हुए हमले के दोषियों को सजा दिलाने में पाक नाकाम हुआ था।

नई दिल्ली

Published: August 25, 2020 01:05:04 pm

बर्लिन/इस्लामाबाद। जर्मनी (Germany) ने पाकिस्तान (Pakistan) को खास तकनीक को देने से इनकार कर दिया है। अपनी पनडुब्बियों की ताकत को बढ़ाने के लिए पाक ने जर्मनी से एक खास तकनीक की मांग की थी। मगर इसे एंजिला मर्केल (Angela Merkel) प्रशासन ने देने से मना कर दिया। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान ने अपनी पनडुब्बियों के लिए एयर इंडिपेंडेंट प्रोपल्शन (AIP) मांगा था। AIP की मदद से पनडुब्बियां हफ्तों पानी के नीचे रह सकती हैं।
Germany Angela Merkel
पाकिस्तान को विशेष तकनीक देने से किया इनकार।
अमरीका भी पाकिस्तान को ताकतवर बनता हुआ नहीं देखना चाहता है

जर्मनी और पाकिस्तान के संबंध आजादी के बाद से ही बेहतर रहे हैं। मगर बीते कुछ समय से पाकिस्तान की आतंकी गतिविधियों को देखते हुए उस पर अंतरराष्ट्रीय दबाव बन गया है कि वह ऐसे मुल्क को कई ऐसी तकनीकी मदद न दे जिससे अन्य देशों को परेशानी सामना करना पड़े। पनडुब्बियों की ताकत बढ़ने से भारत की नौसेना के लिए गंभीर खतरा बन सकता है। जर्मनी और भारत के भी बेहतर संबंध रहे हैं। इसके साथ अमरीका भी पाकिस्तान को ताकतवर बनता हुआ नहीं देखना चाहता है।
पनडुब्बियां अपग्रेड कर रहा है पाक

जर्मन फेडरल सिक्यॉरिटी काउंसिल ने पाकिस्तान को छह अगस्त को ये फैसला सुना दिया था। पाकिस्तान ने AIP तकनीक को मांगा था ताकि उसकी पनडुब्बियां ज्यादा समय तक समुद्र की गहराइयों में रह सकें। उन्हें सतह पर ना आना पड़े। AIP सिस्टम से पनडुब्बियों की जंगी क्षमता भी बड़ जाती है। इससे इंजन बिना बाहरी हवा के हफ्तों भर तक चल सकता है। दरअसल परंपरागत पनडुब्बियों को हर दूसरे दिन सतह पर आना पड़ता है। इससे उनके पकड़े जाने का खतरा बढ़ जाता है।
इसलिए जर्मनी ने ठुकराया

रिपोर्ट के अनुसार जर्मनी ने पाकिस्तान को लेकर कड़ा रुख अपनाया है। उसकी आतंकवाद को लेकर नरमी अपनाया जाना नाकामी की वजह साबित हुआ है। खासकर 2017 में काबुल में जर्मनी के दूतावास के पास हुए बम धमाके के दोषियों को सजा दिलाने में पाकिस्तान असफल रहा है। करीब 150 लोगों की जान लेने वाले धमाके में हक्कानी नेटवर्क का हाथ है। इसे लगातार पाकिस्तान का समर्थन मिल रहा है।
पाक ने कुछ दिन पहले ही फाइनेंशियल ऐक्शन टास्क फोर्स (FATF) की ‘ग्रे लिस्ट’से बाहर आने के लिए अपने 88 प्रतिबंधित आतंकी संगठनों और इनके आकाओं पर कार्रवाई करने का मन बनाया है। हालांकि विशेषज्ञ इसे ढोंग बता रहे हैें। इस लिस्ट में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का नाम भी शामिल है। जो दर्शाता है कि पाकिस्तान ने मान लिया है कि दाऊद उसी के यहां पर मौजूद है। हालांकि वह इस बात से इनकार कर रहा है। इस लिस्ट में हाफिज सईद और मसूद अजहर जैसे आतंकियों और उनके संगठनों के नाम भी शामिल है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

नोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेरपुलिस में मामला दर्ज, नाराज कांग्रेस विधायक का इस्तीफा, जानें क्या है पूरा मामलाDelhi LG Resigned: दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिया इस्तीफा, निजी कारणों का दिया हवालाIndia-China Tension: पैंगोंग झील पर बॉर्डर के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सैटेलाइट इमेज से खुलासाHeavy rain in bangalore: तेज बारिश से दो मजदूरों की मौत, मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणाज्ञानवापी मस्जिद: नौ तालों में कैद वजूखाना, दो शिफ्टों में निगरानी कर रहे CRPF जवान, महंतो का नया दावापाकिस्तान व चीन बॉडर पर S-400 मिसाइल तैनात करेगा भारत, जानिए क्या है इसकी खासियतप्रयागराज में फिर से दिखा लाशों का अंबार, कोरोना काल से भयावह दृश्य, दूर-दूर तक दफ़नाए गए शव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.