हांगकांग आंदोलनकारियों की उइगर मुस्लिमों के समर्थन में रैली, चीन के लिए बढ़ी मुसीबत

  • लाखों उइगर मुस्लिम शिंजियांग प्रांत में बनाए गए है बंदी
  • हांगकांग पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हिंसक झड़प

By: Shweta Singh

Updated: 23 Dec 2019, 02:15 PM IST

हांगकांग। चीन के विरोध में बीते कई महीनों से हांगकांग (Hong Kong) में विरोध प्रदर्शन जारी है। एक विवादित बिल के खिलाफ शुरू हुआ प्रदर्शन अब आंदोलन का रूप ले चुका है। अब ये आंदोलनकारी चीन के खिलाफ एक नई रणनीति के तहत रैली निकाल रहे हैं। आंदोलनकारियों ने रविवार को चीन के उइगर मुसलमानों (china uighur muslims) के प्रति एकजुटता दिखाते ये रैली निकाली थी।

दंगा पुलिस के साथ आंदोलनकारियों की झड़प

उइगरों के लिए निकाली गई इस रैली के दौरान हांगकांग पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हिंसक झड़पें भी देखने को मिली। कुछ प्रदर्शनकारियों ने एक सरकारी भवन से एक चीनी झंडे को उतार दिया। मामला बिगड़ता देख दंगा नियंत्रण पुलिस हरकत को हस्तक्षेप करना पड़ा। इसके बाद पुलिस ने मोर्चा संभालते हुए भीड़ को तितर-बितर कर दिया।

हांगकांग का साथ उइगर मुस्लिमों के जैसा

आंदोलनकारियों का दावा है कि उनकी हालत भी चीन में दमन का सामना करने वाले मुस्लिम अल्पसंख्यकों की जैसी है। आपको बता दें कि हांगकांग में बीते छह महीने लोकतंत्र और आजादी की मांग को लेकर प्रदर्शन हो रहे हैं। इससे पहले भी हांगकांग के मार्च में उइगर समर्थक नारे और झंडे का इस्तेमाल हुआ था। हालांकि, इस रविवार की पूरी रैली ही उइगर मुसलमानों के लिए समर्पित थी।

न्यूजीलैंड: ज्वालामुखी विस्फोट में मरनेवालों की संख्या बढ़कर हुई 19, अब भी कई लापता

चीन के लिए नई मुसीबत

आपको बता दें कि चीन में लाखों उइगर मुस्लिम को शिंजियांग प्रांत में बंदी शिविरों में रखा गया है। इसको लेकर पहले ही चीन, अमरीका समेत कई तरह के अंतरराष्ट्रीय दबाव का सामना कर रहा है। अब हांगकांग आंदोलनकारियों का इनके समर्थन में उतरना चीन के लिए नई मुसीबत बन सकता है।

Shweta Singh Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned