अमरीका के साथ बेहतर रिश्ते रखना चाहता है पाकिस्तान, राजदूत से मिलने के बाद बोले इमरान खान

अमरीका के साथ बेहतर रिश्ते रखना चाहता है पाकिस्तान, राजदूत से मिलने के बाद बोले इमरान खान

| Updated: 09 Aug 2018, 04:44:46 PM (IST) एशिया

इमरान खान ने कहा है उनकी सरकार अमरीका के साथ बेहतर रिश्ते रखना चाहती है।

इस्लामाबाद। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के अध्यक्ष और नामित प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि उनकी पार्टी अमरीका के साथ विश्वास और परस्पर सम्मान पर आधारित संबंध चाहती है। पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार, पाकिस्तान में अमरीकी राजदूत जॉन एफ हूवर ने बुधवार को इमरान से उनके बनिगाला निवास में मुलाकात की। इमरान ने कहा कि पाकिस्तान और अमरीका के संबंधों में कई उतार-चढ़ाव आए हैं जो दोनों देशों के बीच विश्वास में कमी का परिणाम रहे हैं।

अमरीका से रिश्ते सुधारेगा पाकिस्तान
पीटीआई प्रमुख इमरान खान ने कहा, "इस संबंध को अधिक संतुलित और भरोसेमंद बनाने के लिए हमारी सरकार अमरीका के साथ काम करेगी। हम अमरीका के साथ व्यापार और आर्थिक संबंधों को अत्यंत महत्वपूर्ण मानते हैं।" उन्होंने दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंधों में नई जान डालने की आवश्यकता पर जोर दिया और कहा कि रिश्तों में ऐसे बदलाव होने चाहिए जो दोनों को लाभ पहुंचाएं। पीटीआई के मीडिया सेल के अनुसार, अमरीकी प्रतिनिधिमंडल और इमरान ने आपसी हित के अन्य मुद्दों पर चर्चा की जिसमें द्विपक्षीय व्यापार और अफगानिस्तान में स्थिरता का मुद्दा शामिल है। हूवर ने 25 जुलाई के आम चुनाव में इमरान की पार्टी की जीत पर उन्हें बधाई दी।

पाकिस्तान के भावी पीएम हैं इमरान खान
बता दें कि आम चुनाव में सबसे ज्यादा सीटें जीतने वाली तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी (पीटीआई) पाकिस्तान में सरकार बनाने जा रही है। पार्टी प्रमुख इमरान खान को पार्टी ने संसदीय दल का नेता चुना है। बताया जा रहा है कि इमरान खान 14 या 15 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। पीटीआई का दावा है कि देश के कुछ निर्दलीय सांसद और छोटी पार्टियों उन्हें समर्थन दे रही हैं।

इमरान के खिलाफ विपक्ष एकजुट
इमरान खान को प्रधानमंत्री बनने से रोकने के लिए पाकिस्तान की विपक्षी पार्टियां एकजुट हो गई हैं। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी को सत्ता से दूर रखने के लिए पाकिस्तान की दो पुरानी धुर विरोधी पार्टियों ने हाथ मिलाया है। नवाज शरीफ की पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) और बिलावल अली भुट्टो की पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) समेत आठ दल संयुक्त रूप से इमरान खान के खिलाफ प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार खड़ा करेंगे।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned