कजाकिस्तान में तीस साल में पहली बार हुए राष्ट्रपति चुनाव, कसीम जोमार्ट-टोकेयेव की सत्ता में वापसी

  • कजाकिस्तान में मौजूदा राष्ट्रपति कसीम जोमार्ट-टोकेयेव का दोबारा सत्ता पर काबिज होना तय
  • 2019 चुनाव में कसीम को मिले 70.76 प्रतिशत वोट
  • तीस साल बाद कजाकिस्तान में कराए गए राष्ट्रपति चुनाव

By: Shweta Singh

Updated: 11 Jun 2019, 06:00 PM IST

नूर-सुल्तान। कजाकिस्तान में सत्ताधारी राष्ट्रपति कसीम जोमार्ट-टोकेयेव ने एक बार फिर सत्ता पर कब्जा जमा लिया है। देश के चुनाव आयोग की ओर से जारी किए गए 2019 चुनाव परिणामों के मुताबिक राष्ट्रपति कसीम को 70.76 प्रतिशत वोट मिले है। बता दें कि इस चुनाव में कुल सात उम्मीदवार मैदान में थे, जिनमें से टोकेयेव को स्पष्ट बहुमत मिला है।

12 घंटों तक की गई वोटों की गिनती

बता दें कि एक दिन पहले जारी किए एग्जिट पोल में भी टोकेयेव को ही बहुमत मिलते हुए दिखाया गया था। इसमें उन्हें 70.13 प्रतिशत वोट मिलने की संभावना जताई गई थी। आपको बता दें कि कजाकिस्तान में रविवार को चुनाव कराए गए थे। चुनाव में करीब 77.40 प्रतिशत वोटिंग दर्ज हुई थी। इनमें करीब डेढ़ लाख मतदाताओं ने पहली बार वोट (First Time Voters) डाला था। बता दें कि वोटिंग की प्रक्रिया पूरी होने के बाद करीब 12 घंटों तक काउंटिंग की गई थी।

राष्ट्रपति हसन रूहानी का अमरीका पर आरोप, ईरान के खिलाफ फैला रहा 'आर्थिक आतंकवाद', EU से की यह मांग

तीस सालों बाद कजाकिस्तान में राष्ट्रपति चुनाव

बताया जा रहा है कि चुनाव परिणामों (Election Results) की औपचारिक घोषणा आने वाले सप्ताह में की जा सकती है। कजाकिस्तान के 2019 राष्ट्रपति चुनाव काफी अहम है। गौरतलब है कि इस बार तीस सालों में कोई नया चेहरा चुनाव जीतकर सत्ता में आएगा। दरअसल, मार्च में 78 वर्षीय नूरसुल्तान नजरबायेव के पद छोड़ने के बाद टोकेयेव उनके उत्तराधिकारी बने थे। इसके बाद ही देश में 30 सालों में पहली बार चुनाव का ऐलान किया गया था।

सूडान में हिंसा: तनाव के बीच अमरीकी राजदूत करेंगे दौरा, बातचीत से रास्ता निकालने की कोशिश

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Show More
Shweta Singh Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned