China में 84 हजार नहीं ​बल्कि 6.4 लाख Corona संक्रमित मामले, डेटा लीक होने पर बड़ा खुलासा

Highlights

  • ये डाटा फरवरी की शुरुआत से लेकर अप्रैल के अंत तक का है।
  • इस लीक डेटा में देश के 230 शहरों के 6.4 लाख लोगों की जानकारी दी है।

By: Mohit Saxena

Updated: 16 May 2020, 05:59 PM IST

बीजिंग। चीन शुरूआत से ही कोरोना वायरस के मामलों को छिपाता आ रहा है। इसे लेकर अमरीका सहित कई यूरोपीय देश आपत्ति जता रहे हैं। एक ताजा खुलासे में सामने आया है कि 84 हजार नहीं बल्कि 6.4 लाख लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए थे। ये जानकारी एक सैन्य संस्था से लीक हुई है।

चीन ने आधिकारिक रूप से माना है कि उनके यहां कोरोना के 84,029 के सामने आए हैं। जबकि अब चांग्सा में मौजूद नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ डिफेंस टेक्नॉलजी से लीक हुए डेटा के अनुसार देश में कोरोना के मरीजों की संख्या 6.4 लाख हो सकती है।

इस लीक डेटा में देश के 230 शहरों के 6.4 लाख लोगों की जानकारी दी है। हर डाटा को कन्फर्म मामले की तरह देखा जा रहा है। ये डाटा फरवरी की शुरुआत से लेकर अप्रैल के अंत तक का है। इस डेटा में कई लोकेशन भी शामिल है। अस्पताल, रिहायशी अपार्टमेंट, होटल, सुपरमार्केट, रेलवे स्टेशन, रेस्तरां, स्कूल और यहां तक कि केएफसी की कई ब्रांचे शामिल है। सभी को जोड़ने पर ये आंकड़ा कम से कम 6.4 लाख कोरोना मरीज हैं।

हालांकि, यह दावा किया जा रहा है कि संख्या 6.4 लाख से भी ज्यादा लोग इस बीमारी से संक्रमित पाए गए हैं। यह साफ नहीं है कि यह डेटा कैसे जुटाया गया है मगर यूनिवर्सिटी की साइट पर लिखा गया है कि इसमें विभिन्न पब्लिक संसाधनों का इस्तेमाल किया है। गौरतलब है चीन के खिलाफ आरोपों की बौछार जारी है। उस पर कोरोना मरीजों की संख्या को दबाने की कोशिश का आरोप लग रहा होता। वहीं, चीन का दावा है कि वह कोरोना वायरस से निपटने में कामयाब रहा। उसने समय रहते उसकी रोकथाम कर लोगों को बचाया है।

डेटाबेस की जानकारी कोई नहीं है

सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल ने फॉरेन पॉलिसी और रिपोर्ट पर कुछ भी कहने से मना कर दिया जबकि WHO का कहना है कि उसे ऐसा किसी डेटाबेस की जानकारी कोई नहीं है। गौरतलब है कि अमरीका ने चीन पर कोरोना वायरस की जानकारी छिपाने और डब्ल्यूएचओ पर बीजिंग के बचाव का आरोप है। वहीं,आकंड़ों की बात करें तो दुनियाभर में कोरोना वायरस के 44 लाख मामलों की पुष्टि हो चुकी है और तीन लाख लोगों की जान इस घातक वायरस ने ले ली है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned