Nepal: सरकार ने Indian TV Channels से हटाया Ban, फिर शुरू होगा प्रसारण

HIGHLIGHTS

  • नेपाल ( Nepal ) में डिश होम के प्रबंध निदेशक सुदीप आचार्य ने बताया कि उन्होंने सभी भारतीय न्यूज चैनलों ( Indian TV Channels ) को फिर से चालू करना शुरू कर दिया है। इसमें जी न्यूज, आज तक, इंडिया टीवी और एबीपी न्यूज भी शामिल है।
  • भारत के साथ विवाद के बीच बीते 9 जुलाई को नेपाल की केपी शर्मा ओली ( PM KP Sharma Oli ) की सरकार ने एक बड़ा फैसला लेते हुए भारतीय समाचार चैनलों के प्रसारण पर रोक लगा दी थी।

By: Anil Kumar

Updated: 02 Aug 2020, 10:59 PM IST

काठमांडू। भारत नेपाल के रिश्तों ( India Nepal Relations ) में सीमा विवाद को लेकर शुरू हुआ तकरार अभी भी बरकरार है। हालांकि कुछ मामलों में नेपाल सरकार ने अपने कदम पीछे खीचने शुरू कर दिए हैं। इसी में से एक है भारतीय टीवी चैनलों से प्रतिबंध ( Indian TV Channels ) को हटाना।

दरअसल, नेपाल ने अब भारतीय टीवी चैनलों पर लगे प्रतिबंध ( Indian TV Channels Ban ) को धीरे-धीरे हटाना शुरू कर दिया है। रविवार को नेपाल में डिश होम के प्रबंध निदेशक सुदीप आचार्य ने जानकारी देते हुए बताया कि उन्होंने सभी भारतीय न्यूज चैनलों को फिर से चालू करना शुरू कर दिया है। इसमें जी न्यूज, आज तक, इंडिया टीवी और एबीपी न्यूज भी शामिल है।

Nepal Politics: PM Oli और पुष्प कमल प्रचंड में तकरार बरकरार, अनिश्चितकाल के लिए Standing Committee की बैठक स्थगित

आपको बता दें कि भारत के साथ विवाद के बीच बीते 9 जुलाई को नेपाल की केपी ओली शर्मा की सरकार ने एक बड़ा फैसला लेते हुए भारतीय समाचार चैनलों के प्रसारण पर रोक लगा दी थी। हालांकि, दूरदर्शन के प्रसारण पर रोक नहीं लगाया था।

सरकार ने आरोप लगाया था कि ये सभी समाचार चैनल नेपाल के बारे में भ्रामक और गलत जानकारी का प्रचार कर रहे हैं। इसके बाद से नेपाल के कैबल टीवी ऑपरेटरों ने भारतीय समाचार चैनलों के प्रसारण को बंद करने का फैसला लिया था। भारतीय निजी न्यूज चैनलों पर प्रतिबंध विदेशी समाचार वितरक संगठन मल्टी-सिस्टम ऑपरेटर्स (MSO) की ओर से लगाया गया था।

सीमा विवाद पर भारत-नेपाल में तकरार

आपको बता दें कि भारत नेपाल के बीच सीमा विवाद ( Indian Nepal Border Dispute ) को लेकर तकरार चल रहा है। पिछले महीने नेपाल ने एक विवादित नक्शे ( Disputed Map ) का संसद से पारित कराया, जिसके बाद से दोनों देशों में और भी तनाव बढ़ गया है। बीते 8 मई को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ( Defense Minister Rajnath Singh ) ने लिपुलेख से धाराचूला तक बनाई गई एक सड़क का उद्घाटन किया था।

India Nepal Tension: बिहार सीमा पर नेपाल पुलिस ने तीन भारतीय युवकों पर चलाई गोली, एक की हालत गंभीर

इस पर नेपाल ने आपत्ति जताई थी और लिपुलेख को अपना हिस्सा बताया था। इसके बाद नेपाल ने 18 मई को अपना एक नया नक्शा जारी किया। इस नक्शे में भारत के 3 इलाके लिपुलेख, लिम्पियाधुरा और कालापानी ( Lipulekh, Limpiyadhura and Kalapani ) को अपना हिस्सा बताया। भारत ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई। हालांकि नेपाल ने इस नक्शे को वापस नहीं लिया है और न ही भारत के साथ इसको लेकर कोई बातचीत की है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned