Pakistan की नापाक हरकतों से परेशान भारत और अफगानिस्तान, राजनयिक को तलब किया

Highlights

  • विदेश मंत्रालय के अनुसार पाकिस्तानी सेना जानबूझकर भारत की आम जनता को निशाना बना रही है।
  • भारत ने तीन निर्दोष नागरिकों के मारे जाने को लेकर कड़ा विरोध दर्ज किया है।

By: Mohit Saxena

Updated: 19 Jul 2020, 04:22 PM IST

इस्लामाबाद। सीमा पर पाकिस्तान ( Pakistan) की हरकतों को लेकर भारत के साथ-साथ अफागानिस्तान (Afghanistan) भी परेशान है। दोनों देशों ने पाकिस्तानी राजदूत को बुलाकर उसके खिलाफ ऐतराज जताया है। भारत ने पाक की ओर से जारी गोलाबारी और तीन निर्दोष नागरिकों के मारे जाने को लेकर कड़ा विरोध दर्ज किया है। भारत ने इस घटना की कड़ी निंदा की है।

विदेश मंत्रालय के अनुसार संघर्षविराम का उल्लंघन करते हुए पाक ने शुक्रवार की रात सीमा पार से कृष्णाघाटी क्षेत्र में गोलाबारी की। इसके कारण एक बच्चे और उसके माता-पिता की मौत हो गई। विदेश मंत्रालय के अनुसार पाकिस्तानी सेना जानबूझकर भारत की आम जनता को निशाना बना रही है। इसकी भारत ने कड़े काफी शब्दों में निंदा की है। अब तक इन हमलों में 21 भारतीय मारे जा चुके हैं। जबकि 94 घायल हुए हैं। गौरतलब है कि बीते एक साल में पाकिस्तान ने 2711 बार संघर्षविराम का उल्लंघन किया।

आतंकी भेजने की साजिश

विदेश मंत्रालय के अनुसार पाकिस्तान का आतंकियों को लगातार समर्थन जारी है। पाकिस्तान की सेना भारत में इन आतंकियों की घुसपैठ को लेकर कवर फायर कर मदद प्रदान करती है।

गनी सरकार पर लोगों की उपेक्षा का आरोप

पाकिस्तान की हरकतों से परेशान होकर अफगानिस्तान ने कड़ा विरोध जताया है। अफगानिस्तान की संसद में सांसदों का कहना है कि पाकिस्तानी सैन्य बलों द्वारा मोर्टार दागने से हमारे कई नागरिकों की मौत हुई है। उन्होंने सरकार पर अफगान लोगों के अधिकारों की उपेक्षा करने का आरोप लगाया।

संसद ने एक रिपोर्ट में कहा कि बीते एक साल से पाकिस्तानी सैन्य बलों ने अफगानिस्तान के पूर्वी क्षेत्रों में विशेष रूप से नूरिस्तान और कुनार प्रांतों पर मोर्टार के 13 हजार से अधिक राउंड फायरिंग की। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार गोलीबारी में कई नागरिक मारे गए और घायल हो गए।

भारतीय राजनयिक को तलब किया

हालांकि पाकिस्तान ने शनिवार को उलटे ही भारत पर संघर्ष विराम के उल्लंघन का आरोप मढ़ दिया। उसने भारतीय उच्चायोग के एक वरिष्ठ राजनयिक को तलब कर कथित भारतीय गोलीबारी के खिलाफ कड़ा विरोध जताया। पाकिस्तानी विदेश विभाग के अनुसार शुक्रवार को राखचिकरी और बरोह सेक्टरों में बिना किसी उकसावे के भारतीय गोलीबारी में दो महिलाएं घायल हो गईं।

Show More
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned