अब जापान भी तानाशाह किम जोंग उन से बातचीत को तैयार

Navyavesh Navrahi

Publish: Mar, 14 2018 02:31:33 PM (IST)

एशिया
अब जापान भी तानाशाह किम जोंग उन से बातचीत को तैयार

साउथ कोरिया में हुए विंटर ओलंपिक के बाद से नॉर्थ कोरिया के बारे में दुनिया के अन्य देशों के बर्ताव में नर्मी देखी जा रही है।

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन के रवैये से अमरीका समेत दुनिया के कई देश परेशान हैं। नॉर्थ कोरिया की ओर से प्रमाणु और मिसाइल कार्यक्रमों को जारी रखने से अमरीका कई बार उसे चेता भी चुका है। इसके बावजूद अब दुनिया के बड़े नेताओं का रवैया उनके प्रति नर्म हो रहा है। हाल ही में अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ही किम से बातचीत का प्रस्ताव स्वीकार करके सबको चौंका दिया था। हालांकि बातचीत से पहले अमरीका ने कुछ शर्तें रखी हैं। अब जापान भी किम से बातचीत करने की इच्छा जता रहा है। एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार- जापान के पीएम शिंजो एबी और किम के बीच जल्द ही शिखर वार्ता हो सकती है। इस पर विचार चल रहा है। गौर हो, दक्षिण कोरिया में हुए विंटर ओलंपिक के बाद से ही ऐसा यह बदलाव सामने आया है।

मीडिया रिपोर्ट में इस बात का उल्लेख भी किया या है कि जापान या उत्तर कोरिया की ओर से इस वार्ता के बारे में कोई आधिकारिक घोषणा अभी तक नहीं की गई है। जापान की क्‍योदो न्‍यूज एजेंसी के मुताबिक- शिंजो और किम के बीच जल्द ही शिखर वार्ता हो सकती है। इसमें सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि यह बातचीत उत्‍तर कोरिया से निपटने के लए जापान के नए दृष्टिकोण का हिस्‍सा है।

रिपोर्ट के अनुसार- विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने भी इस वार्ता के संबंध में कोई ठोस पुष्टि नहीं की। लेकिन इतना जरूर कहा कि वर्तमान में इस दृष्टिकोण के आधार पर नीतियों का अध्ययन किया जा रहा है कि उत्तर कोरिया के प्रमाणु और मिसाइल कार्यक्रमों तथा जापानी नागरिकों के अपहरण जैसे मुद्दों का हल कैसे निकाला जा सकता है। इसके लिए क्या चीज ज्यादा प्रभावी हो सकती है।

रिपोर्ट के अनुसार- जापान को इस बात का डर है कि कहीं वे उत्तर कोरिया से निपटने में कहीं पीछे न रह जाए। चूंकि दक्षिण कोरिया ओर अमरीका तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। उल्लेखनीय है कि नॉर्थ कोरिया के परमाणु और मिसाइल प्रोजेक्टों को लेकर दक्षिण कोरिया और अमरीका के साथ तनाव चल रहा है।

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned