चुनाव आयोग ने जारी किया नोटिस, पार्टियों की फंडिंग का मांगा ब्यौरा, पीएम की पार्टी का नाम भी शामिल

चुनाव आयोग ने जारी किया नोटिस, पार्टियों की फंडिंग का मांगा ब्यौरा, पीएम की पार्टी का नाम भी शामिल

Shweta Singh | Publish: Nov, 10 2018 07:12:28 PM (IST) एशिया

सभी पार्टियों के पास 18 नवंबर तक का समय।

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने गुरुवार को राजनीतिक पार्टियों को नोटिस जारी किया है। इसमें उन्होंने इनको मिल रही फंडिंग के बारे में जानकारी मांगी है। चुनाव आयोग ने 66 राजनीतिक पार्टियों से चुनाव प्रचार के दौरान किए गए खर्च का ब्यौरा देने के निर्देश दिए हैं। इन पार्टियों में वहां के नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी भी शामिल है।

सभी पार्टियों के पास 18 नवंबर तक का समय

मीडिया रिपोर्ट की माने तो इसके लिए सभी पार्टियों के पास 18 नवंबर तक का समय है। चुनाव आयोग ने ये चेतावनी भी जारी की है कि जिन पार्टियों ने निर्धारित की हुई तारीख तक नोटिस का जवाब दिया उनपर कार्रवाई की जाएगी। यहां तक की उनका चुनाव चिह्न तक वापस लिया जा सकता है।

इन पार्टियों को नोटिस

जिन पार्टियों के खिलाफ नोटिस जारी किया गया है उनमें-पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ, पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी, पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज, बलूचिस्तान अवामी पार्टी, अवामी नेशनल पार्टी, बलूचिस्तान नेशनल पार्टी, जमीयत-ए-उलेमा इस्लाम, सुन्नी इत्तेहाद परिषद और जमात-ए-इस्लामी जैसी प्रमुख पार्टियां शामिल हैं।

22वें प्रधानमंत्री को भी नोटिस

आपको बता दें कि चुनाव आयोग ने पीएम इमरान की पार्टी पीटीआई को भी नोटिस जारी किया गया है। उनसे भी चुनाव प्रचार के दौरान किए गए खर्च का ब्यौरा देने के निर्देश दिए गए हैं। गौरतलब है कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के चेयरमैन इमरान खान ने बीते अगस्त में ही 22वें प्रधानमंत्री के रूप में पाक की सत्ता की कमान संभाली है।

Ad Block is Banned