पाकिस्तान की राजनीति में वापसी की तैयारी में पूर्व PM नवाज शरीफ, बिलावल भुट्टो के संपर्क में

Highlights

  • तबीयत खराब होने के बाद उन्हें इलाज को लेकर लंदन जाने की अनुमति दी गई थी, आठ सप्ताह बाद भी नहीं हुई वापसी।
  • 2017 में शरीफ को अपदस्थ कर दिया गया था।

By: Mohit Saxena

Updated: 20 Sep 2020, 05:23 PM IST

लाहौर। पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) एक साल के लंबे अंतराल के बाद देश की राजनीति में वापसी की कोशिश करने में लगे हुए हैं। वे दोबारा से राजनीति में अपना दबदबा कायम करना चाहते हैैं। पीपीपी अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने भी उन्हें साथ आने के संकेत दिए। उन्होंने डिजिटल माध्यम से शरीफ को सम्मेलनों में हिस्सा लेने का सुझाव दिया है।

उन्हें इमरान खान सरकार के खिलाफ आंदोलन शुरू करने के उद्देश्य से रविवार को बहुदलीय डिजिटल सम्मेलन में हिस्सा लेने को आमंत्रित किया गया। पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) के प्रमुख शरीफ (70) को बीते साल लाहौर उच्च न्यायालय (Lahore High Court) ने इलाज को लेकर चार सप्ताह के वास्ते विदेश जाने की अनुमति दी थी, जिसके बाद वह नवंबर से ही लंदन में रह रहे हैं।

छह जुलाई 2018 को एवनफील्ड संपत्ति मामले में पाकिस्तान के तीन बार पीएम रह चुके शरीफ,उनकी बेटी मरियम और दामाद मोहम्मद सफदर को दोषी करार दिया गया था। 2017 में शरीफ को अपदस्थ कर दिया गया था। दिसंबर 2018 में उन्हें अल अजीजिया इस्पात मिल मामले में सात साल जेल की सजा सुनाई गई थी। उन्हें दोनों ही मामलों में जमानत पर रिहा किया गया था। तबीयत खराब होने के बाद उन्हें इलाज को लेकर लंदन जाने की अनुमति दी गई।

शरीफ को आठ सप्ताह में वापस लौटना था। मगर स्वास्थ्य के चलते वह ऐसा नहीं कर सके। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के अध्यक्ष जरदारी ने शुक्रवार को फोन पर शरीफ से पाक के हालात पर चर्चा की। उन्हें डिजिटल माध्यम से आयोजित विपक्ष नीत बहुदलीय सम्मेलन में शामिल होने का न्योजा दिया।

शरीफ की राजनीतिक उत्तराधिकारी तथा उनकी बेटी मरियम ने निमंत्रण को लेकर जरदारी का आभार व्यक्त किया। इस सम्मेलन में पीएम इमरान खान पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी की सरकार के खिलाफ आंदोलन शुरू करने को लेकर रणनीति बनेगी। विपक्ष का कहना है कि इमरान सरकार महंगाई और गरीबी जैसे मुद्दों पर फेल साबित हुई है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned