पाकिस्तान: सरकार की सख्ती का अनोखा जवाब, रेल मंत्रालय के ऑफिसर ने मांगी 730 दिनों की पेड लीव

पाकिस्तान: सरकार की सख्ती का अनोखा जवाब, रेल मंत्रालय के ऑफिसर ने मांगी 730 दिनों की पेड लीव

Siddharth Priyadarshi | Updated: 27 Aug 2018, 12:10:56 PM (IST) एशिया

रेल मंत्री ने रेलवे के उच्च अधिकारियों की बैठक में बेहद कड़े लहजे में हनीफ गुल को अच्छे परफार्मेंस के लिए चेताया था।

लाहौर। पाकिस्तान में इमरान खान सरकार की सख्ती के चलते रेल मंत्रालय के एक अधिकारी ने 730 दिनों की फुल पेड लीव की डिमांड की है। सत्ता संभालने के साथ ही इमरान खान की नई सरकार का जोर सरकारी फिजूलखर्ची रोकने पर है। इसके चलते इमरान खान लगातार सख्त फैसले ले रहे हैं। बताया जा रहा है कि पीएम इमरान खान के इशारे पर नए रेलमंत्री भी कर्मचारियों और अधिकारियों के प्रति सख्त हो गए हैं। इसका विरोध जताने के लिए रेल मंत्रालय के एक अफसर ने 730 दिनों की फुल पे लीव मांगी है।

रेल मंत्री के व्यवहार से नाराज अधिकारी

रेल मंत्री की सख्ती से नाराज होकर ग्रेड-20 अधिकारी हनीफ गुल ने 730 दिनों की पेस लीव का आवेदन दिया। अपने आवेदन में हनीफ गुल ने कहा है कि "पाकिस्तानी सिविल सेवा का सम्मानीय सदस्य रहते हुए वह नए रेलमंत्री रशीद के अधीन काम नहीं कर सकेंगे।" उन्होंने आरोप लगाया है कि नए रेलमंत्री का व्यवहार बेहद गैर पेशेवर और अशिष्ट है। इसलिए मेरी छुट्‌टी मंजूर की जाए।" पाकिस्तानी मीडिया की खबरों में बताया गया है कि रशीद ने रेल के उच्च अधिकारियों की बैठक में बेहद कड़े लहजे में हनीफ गुल को अच्छे परफार्मेंस के लिए चेताया था।

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ लीव एप्लिकेशन

रेल अधिकारी का यह आवेदन पाकिस्तान में सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। लोग इस आवेदन का खूब मजाक बना रहे हैं। इसके साथ ही पाकिस्तान की नई सरकार के सख्त रुख के समर्थक और विरोधी दोनों आमने सामने आ गए हैं। बता दें कि पाकिस्तान में नई सरकार ने राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री समेत अधिकारियों तथा नेताओं के सरकारी खर्चे पर प्रथम श्रेणी से हवाई यात्रा करने पर प्रतिबंध लगा दिया है।

फिजूलखर्ची पर सख्त हुई इमरान सरकार

पाकिस्तान में नए मंत्रिमंडल ने प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति तथा अन्य अधिकारियों को आवंटित किये जाने वाली विवेकाधीन निधि के आवंटन पर भी रोक लगा दी है। पीटीआई प्रवक्ता और सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने दावा किया है कि कि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ एक साल में 51 अरब रूपये खर्च किया करते थे। बता दें कि आम चुनावों में जीत के बाद खान ने प्रधानमंत्री आवास में रहने की बजाय उसके एक छोटे से हिस्से का इस्तेमाल करने का फैसला किया है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned