Sri Lanka Blasts: चरमपंथियों पर हमले का शक, आत्मघाती हमलावरों का किया गया इस्तेमाल

  • श्रीलंका के तीन चर्च और पांच होटलों में किया गया बम धमाका।
  • बम धमाके में 200 से अधिक लोगों की मौत।
  • अभी तक किसी भी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

Anil Kumar

April, 2111:43 PM

कोलंबो। श्रीलंका की राजधानी कोलंबो में रविवार की सुबह सिलसिलेवार आठ धमाकों ने पूरी दुनिया को हिलाकर रख दिया। इस धमाके में अबतक 200 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 500 से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हैं। अब इस घटना को लेकर एक बड़ा सच सामने आ रहा है। हालांकि इतने बड़ा हमला हो जाने के बाद भी किसी संगठन ने इसकी जिम्मेदारी नहीं ली है। अलग-अलग सूत्रों के हवाले से यह बात सामने आ रही है कि इस हमले के लिए आत्मघाती हमलावरों का इस्तेमाल किया गया था। शुरूआती जांच के बाद यह खुलासा हुआ है कि दो लोग शनिवार यानी (20/04/2019) को शांगरी-ला होटल के कमरा नंबर 616 में रूके थे। वहां पर लगे क्लोज सर्किट टेलीविजन कैमरा (सीसीटीवी) फुटेज से पता चला है कि संदिग्धों ने कैफेटेरिया में और होटल के गलियारे में बम विस्फोट किया। जांच में जुटे अधिकारियों को संदेह है कि शांगरी-ला होटल में बम विस्फोट करने के लिए 25 किलोग्राम वजन वाले C-4 विस्फोटकों का इस्तेमाल किया गया था। घटना के बाद जांचकर्ताओं ने होटल के उस कमरे में तलाशी ली जिसमें वे रूके थे। अधिकारियों ने वहां से चरमपंथियों द्वारा प्रयुक्त किए जाने वाले कई तरह की सामग्री बरामद की। अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि ये हमलावर स्थानीय थे या फिर अंतर्राष्ट्रीय पर्यटक, क्योंकि वे दोनों पर्यटक वीजा पर द्वीप में पहुंचे थे। फिलहाल इस पूरे मामले की जांच की जा रही है। बता घटना के बाद से प्रशासन ने फौरन ही इलाके में कर्फ्यू लगा दिया और सोशल मीडिया सेवा को बंद कर दिया। रविवार को ईसाई धर्म के पवित्र त्योहार ईस्टर के मौके पर अलग-अलग चर्च में हजारों की संख्या में लोग प्रार्थना करने के लिए पहुंचे थे।

श्रीलंका सीरियल ब्लास्टः कोलंबो और मुंबई हमले में हैं ये बड़ी समानताएं

आठ जगहों पर हुआ धमाका

बता दें कि, श्रीलंका के कोलंबो में रविवार की सुबह एक के बाद एक 6 धमाके हुए और फिर कुछ घंटे बाद दो और जगहों पर आत्मघाती हमले को अंजाम दिया गया, जिसमें 200 से अधिक लोग मारे गए। इस हमले में 500 से अधिक लोग घायल भी हो गए। आतंकियों ने इन जगहों पर घटना को अंजाम दिया है- सेंट एंथोनी चर्च (कोचचीकड़े), कटुवापिटीया चर्च (नेगोंबो), बट्टीकलाओ चर्च, किंग्सबरी होटल (कोलंबो), सिनेमन ग्रांड (कोलंबो), शंगरी-ला होटल (कोलंबो)। इस सिलसिलेवार धमाकों ने पूरी दुनिया को हिलाकर रख दिया। घटना के बाद से प्रशासन ने फौरन ही इलाके में कर्फ्यू लगा दिया और सोशल मीडिया सेवा को बंद कर दिया। अभी तक जो जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक, रविवार को ईसाई धर्म के पवित्र त्योहार ईस्टर के मौके पर अलग-अलग चर्च में हजारों की संख्या में लोग प्रार्थना करने के लिए पहुंचे थे। इसी दौरान हमलावरों ने घटना को अंजाम दिया। इसके बाद तीन होटलों को भी निशाना बनाया। फिलहाल पूरी दुनिया ने इस घटना की निंदा की है और संवेदना व्यक्त की है। अभी तक किसी भी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

 

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर .

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned