तालिबान दे रहा शांति के संदेश, कहा-वह भारत समेत सभी देशों से बेहतर संबंध स्थापित करना चाहता है

पाक के एक मीडिया चैनल पर तालिबान के प्रवक्ता जुबिउल्लाह मुजाहिद ने कहा कि वह अफगानिस्तान की भूमि का इस्तेमाल किसी आतंकी गतिविधि के लिए नहीं करने देंगे।

By: Mohit Saxena

Published: 29 Aug 2021, 12:10 AM IST

इस्लामाबाद। तालिबान (taliban) के एक शीर्ष अधिकारी का कहना है कि भारत समेत वह सभी देशों से बेहतर संबंध स्थापित करना चाहता है। उसका कहना है कि अफगानिस्तान (Afghanistan) की भूमि का इस्तेमाल किसी भी आतंकी गतिविधियों के लिए नहीं होगा।

तालिबान के प्रवक्ता जुबिउल्लाह मुजाहिद (Zabihullah Mujahid) ने कहा कि समूह जिसके हाथ में अब अफगानिस्तान की बागडोर है वह भारत को एक अहम हिस्सा मानता है। पाक के एक मीडिया चैनल पर मुजाहिद ने कहा कि कहा, हम क्षेत्र के एक अहम हिस्से भारत समेत सभी देशों के साथ अच्छे संबंध चाहते हैं।

ये भी पढ़ें: एस्टोनिया: राष्ट्रपति चुनाव में केवल एक उम्मीदवार, आजादी के 30 वर्ष बाद ऐसी स्थिति सामने आई

जुबिउल्लाह मुजाहिद ने कहा कि हमारी आकांक्षा है कि भारत अफगान लोगों के हितों के अनुरूप अपनी नीति तैयार करे। अमरीकी सैनिकों की वापसी के दो सप्ताह पहले, 15 अगस्त को तालिबान ने अफगानिस्तान पर अपना कब्जा जमा लिया था। अफगानिस्तान में ‘तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान’ और ‘इस्लामिक स्टेट’ के दोबारा सिर उठाने की आशंका पर मुजाहिद ने कहा कि उन्होंने पहले भी कहा है कि अपनी जमीन का इस्तेमाल किसी भी अन्य देश के खिलाफ नहीं होने देंगे। यहां पर उनकी नीति बिलकुल स्पष्ट है।’

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मुजाहिद का कहना है कि पाकिस्तान और भारत को हर मुद्दे के समाधान के लिए एक साथ बैठना होगा। ये दोनों पड़ोसी हैं और उनके हित एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। प्रवक्‍ता का कहना है कि अफगानिस्तान को आजाद कराने में हमें गर्व है। जल्द यहां पर शरिया कानून के तहत सरकार का गठन किया जाएगा।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned