तहरीक-ए-तालिबान ने ली बलूचिस्तान आतंकी हमले की जिम्मेदारी, मृतकों की संख्या 132 हुई

तहरीक-ए-तालिबान ने ली बलूचिस्तान आतंकी हमले की जिम्मेदारी, मृतकों की संख्या 132 हुई

Mangala Prasad Yadav | Publish: Jul, 14 2018 09:06:57 AM (IST) एशिया

बलूचिस्तान और पख्तूनख्वाह प्रांत में शुक्रवार को हुए आतंकी हमले की जिम्मेदारी प्रतिबंधित आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान ने ली है।

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में चुनावी रैली को निशाना बनाकर शुक्रवार को किए गए दो आत्मघाती विस्फोट में मरने वाले की संख्या करीब 132 हो गई है। जबकि 180 लोग घायल हुए हैं। इस आत्मघाती हमले की जिम्मेदारी प्रतिबंधित आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान ने ली है। स्थानीय मीडिया के अनुसार, मृतकों में एक राजनेता भी शामिल है। मृतक नेता का नाम नवाबजादा सिराज रैसानी बताया जा रहा है जोकि बलूचिस्तान अवामी पार्टी (बीएपी) के उम्मीदवार थे। 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव से पहले चुनावी उम्मीदवारों पर इस तरह का यह तीसरा हमला था।

पूर्व मुख्यमंत्री के भाई थे सिराज रैसानी
रैसानी बलूचिस्तान के पूर्व मुख्यमंत्री नवाज असलम रैसानी के छोटे भाई हैं। वह हाल ही में गठित बीएपी की तरफ से पीबी-35 निर्वाचन क्षेत्र से उम्मीदवार थे। बलूचिस्तान के सुरक्षा बलों ने मीडिया को बताया कि सिराज पर उस समय हमला किया गया, जब वह मस्तंग जिले में एक नुक्कड़ सभा को संबोधित कर रहे थे। सिराज के भाई लश्करी रैसानी ने उनके निधन की पुष्टि की है। सिराज की रैली में किए गए विस्फोट से 128 की मौत की पुष्टि हो चुकी है जबकि 150 लोग घायल हैं। बलूचिस्तान के नागरिक सुरक्षा निदेशक असलम तरीन ने कहा कि हमले में आठ-10 किलोग्राम विस्फोटक और बाल बेयरिंग का इस्तेमाल किया गया। 25 जुलाई के चुनाव से पहले राजनेताओं को निशाना बनाकर किए गए कई हमलों में मस्तंग का हमला सबसे अधिक घातक था।

दूसरे विस्फोट में पूर्व मुख्यमंत्री के काफिले पर हमला
इससे पहले दिन में खबर पख्तूनख्वाह प्रांत के पूर्व मुख्यमंत्री अकरम खान दुर्रानी के काफिले को निशाना बनाकर विस्फोट किया गया। यह हमला बन्नू में किया गया। इस हमले में दुर्रानी तो सुरक्षित बच गए, लेकिन चार लोगों की मौत हो गई और 30 अन्य घायल हो गए। दुर्रानी 25 जुलाई को होने वाले चुनाव में एनए-35(बन्नू) सीट से मुत्ताहिदा मजलिस-ए-अमल (एमएमए) के टिकट पर पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के अध्यक्ष इमरान खान के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं।

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned