अचानक अफगानिस्तान पहुंचकर अमरीकी रक्षा मंत्री मैटिस ने चौकाया, बिगड़े हालात की लेंगे जानकारी

अचानक अफगानिस्तान पहुंचकर अमरीकी रक्षा मंत्री मैटिस ने चौकाया, बिगड़े हालात की लेंगे जानकारी

Mangala Prasad Yadav | Publish: Sep, 07 2018 03:34:21 PM (IST) एशिया

अमरीकी रक्षा मंत्री मैटिस आज नई दिल्ली दिल्ली से सीधे काबुल पहुंचे। वे यहां पर बिगड़े हालात की समीक्षा करेंगे।

काबुलः अमरीकी रक्षा मंत्री जिम मैटिस शुक्रवार को अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पहुंचे। अफगानिस्तान में बिगड़े हालात के बावजूद मैटिस का काबुल पहुंचना अप्रत्‍याशित माना जा रहा है। क्योंकि मैटिस का अफगानिस्तान पहुंचने के बारे में कोई जानकारी नहीं थी। मैटिस के साथ अमरीकी प्रतिनिधिमंडल में ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ के प्रमुख जनरल जोसेफ डनफर्ड भी शामिल हैं। बताया जा रहा है कि वे यहां पर ताजा हालात की जानकारी लेंगे और अफगानिस्तान के मंत्रियों और बड़े अधिकारियों से मुलाकात करेंगे।

ये भी पढ़ेंः अफगानिस्तान में आत्मघाती हमला, 10 लोगों की मौत, चार घायल

अफगानिस्तान में शांति बहाली की कोशिश
दरअसल अमरीका अफगानिस्तान में शांति बहाली के लिए तालिबान पर वार्ता के लिए दबाव डाल रहा है। जबकि तालिबान का कहना है कि वह बातचीत सिर्फ अमरीका के साथ ही करेगा वो भी इस शर्त पर कि अफगानिस्तान से अमरीका अपनी सेना हटा ले लेकिन अमरीका इसके लिए तैयार नहीं है। बता दें कि इस समय अफगानिस्तान में करीब 14 हजार अमरीकी सैनिक मौजूद हैं, जोकि अफगान सेना के साथ मिलकर तालिबान आतंकियों का मुकाबला करते हैं। अमरीकी रक्षा मंत्री मैटिस इससे पहले इसी साल मार्च में अफगानिस्‍तान का दौरा किया था। इस दौरान वे राष्ट्रपति गनी और अफगान सरकार के बड़े अधिकारियों से भी मुलाकात की थी।

ये भी पढ़ेंः अफगानिस्तान: शिक्षा विभाग की इमारत में अज्ञात बंदूकधारियों ने की अंधाधुंध फायरिंग, 10 लोगों की मौत

तालिबान का अफगान सरकार से बातचीत से इनकार
इस हाल में ही तालिबान ने अफगान सरकार द्वारा की गई बातचीत की पेशकश को एक बार फिर खारिज किया था और देश में अस्थिरता और युद्ध के जारी रहने के लिए अमरीका को जिम्मेदार ठहराया था। तालिबान की तरफ से जारी बयान में कहा गया था कि अफगानिस्तान में जारी युद्ध अमरीकी कब्जे की देन है, इसलिए हम वाशिंगटन के साथ सीधी बातचीत पर जोर दे रहे हैं, ताकि इसे समाप्त किया जा सके।"

 

Ad Block is Banned