दिवाली पर दुर्लभ योग: दीपावली पर 500 साल बाद बना रहा है ऐसा संयोग, जानें किस मुहूर्त में करें पूजा

  • शनिवार, 14 नवंबर को दीपावली मनाई जाएगी
  • इस बार ये पर्व शनिवार को आने से तंत्र पूजा के लिए खास रहेगा

By: Pratibha Tripathi

Published: 30 Oct 2020, 02:46 PM IST

नई दिल्ली। दीपावली का त्यौहार जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है लोगों में इस त्यौहार को मनाने की उंमग उतनी ही तेजी से बढ़ती जा रही है। मां लक्ष्मी की पूजा की तैयारी में महिलांए अभी से करने में जुट गई है। इस साल दीपावली 14 नवंबर को मनाई जाएगी। लेकिन इस साल की दीपावली में एक खास तरह का संयोग बन रहा है जो आज से 500 साल पहले बना था। इस दुर्लभ योग में सबसे बड़ी बात यह है कि इस बार की दिवाली शनिवार के दिन पड़ रही है जो तंत्र पूजा करने वालों के लिए सबसे खास दिन मानी जा रही है। इसके साथ ही इस दीपावली पर गुरु ग्रह अपनी राशि धनु में और शनि अपनी राशि मकर में रहेगा। शुक्र ग्रह कन्या राशि में नीच का रहेगा। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार, इस साल की दीपावली पर तीन बड़े ग्रहों का ये दुर्लभ योग 499 साल बाद बन रहा है। इससे पहले ऐसा योग साल 1521 में देखा गया था ऐसे योग बनने से दीपावली पर की जाने वाली पूजा का फल भक्त को जल्द ही मिलने लगता है। यह ग्रह व्यक्ति की आर्थिक स्थिति को मजबूत करने वाले कारक ग्रह माने जाते हैं। और ये ग्रह दीपावली पर जब अपनी राशि में प्रवेश करने लगते है हमारे सभी कष्ट जल्द ही खत्म होने लगते है।

शुभ मुहूर्त

15 नवंबर को अमावस्या तिथि सुबह 10.16 तक ही रहेगी। इसीलिए दीपावली 14 नवंबर को मनाया जाना श्रेष्ठ है। 15 तारीख को केवल स्नान-दान की अमावस्या मनाई जाएगी।

दीपावली पर कच्चे दूध से करें श्रीयंत्र का अभिषेक

दीपावली पर देवी लक्ष्मी के सामने श्रीयंत्र रखकर पूजा करना काफी जरूरी होता है। और इस बार जो योग बना रहे है उसे देखते हुए इस बार श्रीयंत्र का अभिषेक कच्चे दूध से करना बहुत शुभ रहेगा।

दीपावली पर करें ये शुभ काम

  • इस साल की दीपावली पर आप सभी को हनुमानजी, यमराज, चित्रगुप्त, कुबेर, भैरव, कुलदेवता और पितरों का पूजन जरूर करना चाहिए।
  • लक्ष्मीजी के साथ भगवान विष्णु का भी पूजन करना बहुत शुभ रहता है।
  • पूजन में श्री सूक्त का पाठ करना चाहिए।
Pratibha Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned