Monday The day of Lord Shiv: इस बार सावन के हर सोमवार को करें ये खास उपाय, भगवान शिव होंगे आप पर प्रसन्न

सावन का आरंभ होते ही भगवान शिव उठाते हैं सृष्टि का संपूर्ण भार...

हिंदू धर्म के अनुसार, श्रावण को शिवत्व के अनुरूप वर्ष का सबसे पवित्र महिना माना जाता है, तथा साप्ताहिक दिन सोमवार को शिव की उपासना का दिन माना गया है। इस प्रकार श्रावण माह के सोमवार की महत्ता और भी अधिक हो जाती है।

सावन का आरंभ होते ही भगवान शिव और माता पार्वजी सृष्टि का संपूर्ण भार उठाते हैं। इसलिए सावन का महीना शिवजी को अतिप्रिय होता है। सावन के महीने में आप भी आसान से कुछ उपायों को आजमाकर भगवान शिव को प्रसन्‍न कर सकते हैं।

ऐसे में जानकारों के अनुसार इस साल यानि 2021 में सावन माह जहां पश्चिमी, मध्य व कुछ उत्तर भारत के राज्यों में जुलाई 25, 2021, रविवार से शुरु होकर अगस्त 22, 2021, रविवार के दिन तक मान्य रहेगा। वहीं आन्ध्र प्रदेश, तेलंगाना, गोवा, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक और तमिलनाडु के लिए सावन सोमवार व्रत अगस्त 9, 2021, सोमवार से शुरु होकर सितम्बर 7, 2021, मंगलवार तक मान्य रहेगा।

जबकि उत्तराखण्ड और हिमाचल प्रदेश के कुछ भागों के लिए सावन सोमवार व्रत जुलाई 16, 2021, शुक्रवार से शुरु होकर अगस्त 16, 2021, सोमवार तक मान्य रहेगा। यह अंतर पंचांग / कलेंडर में अंतर (सूर्य व चंद्र पर आधारित) के कारण रहेगा।

How to please Lord shiv : भगवान शिव को ऐसे करें प्रसन्न
भगवान शिव को बिल्‍वपत्र अतिप्रिय होता है। समुद्र मंथन से प्रकट हुए हलाकल विष का सेवन करने से उनका कंठ नीला पड़ गया था। तब देवताओं ने बिल्‍वपत्र से औषधि तैयार करके उनका इलाज किया था। यही वजह है कि शिवजी को बिल्‍वपत्र इतना प्रिय है। सावन में रोज 21 बिल्वपत्रों पर चंदन से ऊं नम: शिवाय लिखकर शिवलिंग पर चढ़ाएं। इससे आपकी सभी मनोकामनाएं पूरी हो सकती हैं।

इसके अलावा गोमूत्र को हमारे धर्म शास्‍त्रों में सबसे शुद्ध पदार्थ माना गया है और पूजापाठ के कार्यों में इसका विशेष रूप से प्रयोग होता है। अगर आपके घर में किसी भी प्रकार की परेशानी हो तो सावन में रोज सुबह घर में गोमूत्र का छिड़काव करें तथा गुग्गुल का धूप दें। इससे आपके घर से सभी प्रकार की नकारात्‍मक ऊर्जा दूर होती है और शिवजी का वास होता है।

यदि आपके घर में पुत्र या पुत्री के विवाह में अड़चन आ रही है तो सावन के महीने में इस उपाय को करके आप इस बाधा को दूर कर सकते हैं। सावन में रोज शिवलिंग पर केसर मिला हुआ दूध चढ़ाएं। इससे जल्दी ही आपके विवाह के योग बन सकते हैं।

सावन में गरीबों को भोजन कराएं, इससे आपके घर में कभी अन्न की कमी नहीं होगी तथा पितरों की आत्मा को शांति मिलेगी। इसके साथ ही रोज नंदी (बैल) को हरा चारा खिलाएं। इससे जीवन में सुख-समृद्धि आएगी और मन प्रसन्न रहेगा।

सावन में रोज सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि से निपट कर समीप स्थित किसी शिव मंदिर में जाएं और भगवान शिव का जल से अभिषेक करें और उन्हें काले तिल अर्पण करें। इसके बाद मंदिर में कुछ देर बैठकर मन ही मन में ऊं नम: शिवाय मंत्र का जाप करें। इससे मन को शांति मिलेगी और नए कार्य संपन्‍न करने की ऊर्जा प्राप्‍त होगी।

मछलियों को भगवान विष्‍णु से संबंधित माना जाता है। सावन में किसी नदी या तालाब जाकर आटे की गोलियां मछलियों को खिलाएं। जब तक यह काम करें मन ही मन में भगवान शिव का ध्यान करते रहें। यह धन प्राप्ति का बहुत ही सरल उपाय है। इससे मां लक्ष्‍मी प्रसन्‍न होकर आपके घर में वास करेंगी और धन वैभव प्रदान करेंगी।

सावन के महीने में किसी भी दिन घर में पारद शिवलिंग की स्थापना करें और उसकी यथाविधि पूजा करें। इसके बाद नीचे लिखे मंत्र का 108 बार जप करें-
ऊं ऐं ह्रीं श्रीं ऊं नम: शिवाय:।।

प्रत्येक मंत्र के साथ बिल्वपत्र पारद शिवलिंग पर चढ़ाएं। बिल्वपत्र के तीनों दलों पर लाल चंदन से क्रमश: ऐं, ह्री, श्रीं लिखें। अंतिम 108 वां बिल्वपत्र को शिवलिंग पर चढ़ाने के बाद निकाल लें तथा उसे अपने पूजन स्थान पर रखकर प्रतिदिन उसकी पूजा करें। माना जाता है ऐसा करने से व्यक्ति की आमदनी में इजाफा होता है और घर से नकारात्मक शक्तियां दूर रहती हैं।

सावन में किसी सोमवार को पानी में दूध व काले तिल डालकर शिवलिंग का अभिषेक करें। अभिषेक के लिए तांबे के बर्तन को छोड़कर किसी अन्य धातु के बर्तन का उपयोग करें। अभिषेक करते समय ऊं जूं स: मंत्र का जाप करते रहें। इसके बाद भगवान शिव से रोग निवारण के लिए प्रार्थना करें और प्रत्येक सोमवार को रात में सवा नौ बजे के बाद गाय के सवा पाव कच्चे दूध से शिवलिंग का अभिषेक करने का संकल्प लें। इस उपाय से बीमारी ठीक होने में लाभ मिलता है।


श्रावण माह 2021 की तिथियां , विभिन्न क्षेत्रों के पंचांग के आधार पर...

श्रावण प्रारम्भ : पश्चिम, मध्य व उत्तर भारत में...

जुलाई 25, 2021, रविवार : श्रावण प्रारम्भ
प्रथम श्रावण सोमवार व्रत : जुलाई 26, 2021, सोमवार

द्वितीय श्रावण सोमवार व्रत : अगस्त 2, 2021, सोमवार

तृतीय श्रावण सोमवार व्रत : अगस्त 9, 2021, सोमवार

चतुर्थ श्रावण सोमवार व्रत : अगस्त 16, 2021, सोमवार : श्रावण समाप्त :

आन्ध्र प्रदेश, तेलंगाना, गोवा, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक और तमिलनाडु के लिए सावन सोमवार व्रत...

प्रथम श्रावण सोमवार व्रत : अगस्त 9, 2021, सोमवार : श्रावण प्रारम्भ

द्वितीय श्रावण सोमवार व्रत : अगस्त 16, 2021, सोमवार

तृतीय श्रावण सोमवार व्रत 5 अगस्त 23, 2021, सोमवार

चतुर्थ श्रावण सोमवार व्रत : अगस्त 30, 2021, सोमवार

पञ्चम श्रावण सोमवार व्रत : सितम्बर 6, 2021, सोमवार

सितम्बर 7, 2021, मंगलवार : श्रावण समाप्त

उत्तराखण्ड और हिमाचल प्रदेश व नेपाल के कुछ भागों के लिए सावन सोमवार व्रत...

श्रावण प्रारम्भ : जुलाई 16, 2021, शुक्रवार

प्रथम श्रावण सोमवार : जुलाई 19, 2021, सोमवार

द्वितीय श्रावण सोमवार : जुलाई 26, 2021, सोमवार

तृतीय श्रावण सोमवार : अगस्त 2, 2021, सोमवार

चतुर्थ श्रावण सोमवार : अगस्त 9, 2021, सोमवार

पांचवां श्रावण सोमवार : अगस्त 16, 2021, सोमवार : श्रावण समाप्त

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned