कहते हैं कुदरत के ये इशारे, अच्छी बारिश से आएगी खुशहाली

कहते हैं कुदरत के ये इशारे, अच्छी बारिश से आएगी खुशहाली

राजधानी और आस-पास के जिलों समेत पूरे राज्य में इस वर्ष अच्छी बारिश के योग बने हैं। जंतर-मंतर के वृहद सम्राट यंत्र पर वायु परीक्षण के दौरान हवा का रुख दक्षिण पश्चिम से उत्तर पूर्व रहा

राजधानी और आस-पास के जिलों समेत पूरे राज्य में इस वर्ष अच्छी बारिश के योग बने हैं। जंतर-मंतर के वृहद सम्राट यंत्र पर वायु परीक्षण के दौरान हवा का रुख दक्षिण पश्चिम से उत्तर पूर्व रहा।

आषाढ़ मास की पूर्णिमा को सूर्यास्त के समय हवा के इस रुख पर बहने से भरपूर वृष्टि और अन्न वृद्धि के संकेत मिलते हैं। प्रमुख विद्वानों और ज्योतिषियों ने गुरुवार शाम पारंपरिक रीति और मंत्रोच्चार के साथ इंद्र ध्वज का पूजन किया।

ये भी पढ़िए- ये हैं भारत के महान गुरु जिन्हें दुनिया करती है सलाम

बाद में 7.13 बजे वृहद सम्राट यंत्र पर करीब 15 मिनट तक इंद्रध्वज फहराया गया, इस दौरान ध्वज की दिशा उत्तर पूर्व की ओर रही। नीचे उतरने के बाद हवा के रुख और ग्रह और नक्षत्रों की स्थितियों के अनुसार सभी ने इस वर्ष अच्छी बारिश की बात कही।

rain

पंडित रामपाल महाराज ने कहा कि 2015 में राजस्थान में अच्छी बारिश के योग बन रहे हैं। अधिकमास होने से अनावृष्टि-अतिवृष्टी के योग नहीं है। वायु परीक्षण डॉ. विनोद शास्त्री, पं. रामपाल महाराज, देवर्षि कलानाथ शास्त्री, पं. गोपालकृष्ण बृजेश, शिवचरण शास्त्री डाॅ. भास्कर, डाॅ. महेन्द्र मिश्रा, चंद्रमोहन दाधीच, पं. दामोदर शर्मा, पं. चंद्रशेखर शर्मा, मातृ प्रसाद जोशी आदि विद्वान उपस्थित रहे।

rain

इनके अनुसार इस वर्ष अच्छी वर्षा के योग हैं। गर्भधारण से लेकर वर्षाकाल एवं वायु परीक्षण के समय में वायु की स्थिति नैऋत्य कोण से ईशान कोण की तरफ के योगो के विषय पर विद्वानों के मतानुसार फसल की स्थिति अच्छी रहेगी।

जानिए कुदरत के संकेत
- वर्षा काल में गुरु और शुक्र का उदयास्त होना श्रेष्ठ वर्षा का कारक।

- श्रावण मास में शुक्र अस्त होने से अच्छी वर्षा के योग।

rain

- भाद्रपद मास में गुरु होने से अधिक वर्षा के योग।

- कर्क राशि में स्थित मंगल से अच्छी वर्षा के योग।

- कीलक नामक संवत्सर होने से अच्छी वर्षा और पैदावार के योग।

rain

- मेघेश चंद्रमा के कारण कुएं, तलाब, बावड़ी आदि जल से भरे रहेंगे।

- रोहिणी का वास समुद्र में होने से अन्न-धन की श्रेष्ठता रहेगी।

- समय का वास माली के घर में होने से फसलों की अधिकता रहेगी।

- समय का वाहन महिष होने से वर्षा की प्रचुरता।

पढ़ना न भूलेंः

- धर्म, ज्योतिष और अध्यात्म की अनमोल बातें

- मन की उलझन से हैं परेशान तो गुरु पूर्णिमा पर जानें ये अचूक मंत्र


खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned