पीएम मोदी की तरह सीएम योगी समेत सभी भाजपा दिग्गजों ने नाम के आगे जोड़ा 'चौकीदार'

पीएम मोदी की तरह सीएम योगी समेत सभी भाजपा दिग्गजों ने नाम के आगे जोड़ा 'चौकीदार'

Abhishek Gupta | Publish: Mar, 17 2019 06:21:13 PM (IST) | Updated: Mar, 17 2019 06:22:29 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

खुद को चौकीदार कहने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने नाम के आगे चौकीदार लगा तो यूपी में भी भाजपा नेताओं ने अपने-अपने ट्विटर हैंडल पर नाम के आगे चौकीदार जोड़ दिया.

लखनऊ. खुद को चौकीदार कहने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने नाम के आगे चौकीदार लगाया तो यूपी में भी भाजपा नेताओं ने अपने-अपने ट्विटर हैंडल पर खुद को चौकीदार घोषित कर दिया। पीएम मोदी की इस मुहिम में जुड़ते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी खुद को चौकीदार बताते हुए सोशल मीडिया पर कहा कि "उत्तर प्रदेश है संकल्पित और मैं तैयार हूँ, जो प्रेरणा से है बही, विकास की बयार हूँ, हाँ, मैं भी चौकीदार हूँ... जारी रखें विकास का सफर मोदी जी के साथ"। उनके साथ ही भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, दिनेश शर्मा, उन्नाव से भाजपा सांसद साक्षी महाराज, उमा भारती, श्रीकांत शर्मा समेत कई अन्य नेताओं ने अपने नाम में चौकीदार शब्द जोड़ दिया है।

ये भी पढ़ें- अपर्णा यादव के टिकट को लेकर आखिरकार अखिलेश यादव ने तोड़ दी चुप्पी, दिया बहुत बड़ा बयान, सपाईयों मचा हड़कंप

31 मार्च को होगा बड़ा कार्यक्रम-

देखते ही देखते रविवार को सोशल मीडिया पर #ChowkidarPhirSe नंबर एक पर ट्रेंड करने लगा है। देखा जाए तो भाजपा ने एक बार फिर पर राजनीतिक हमले को अपने पक्ष में करने की रणनीति बना ली है। चौकीदार चोर है के हमले को बीजेपी ने 'मैं भी चौकीदार' में तब्दील करते हुए कैम्पेन लॉन्च किया है। 31 मार्च को भाजपा यूपी में इस पर बड़ा कार्यक्रम भी करने वाली है। जिसमें सीएम योगी व अन्य भाजपा के दिग्गज शिरकत करेंगे।

ये भी पढ़ें- भाजपा ने यूपी में पहले प्रत्याशी का किया ऐलान, इस सीट पर सपा व कांग्रेस के इन उम्मीदवारों से होगी भिड़ंत

एक तीर से दो निशाने-

राहुल गांधी के चौकीदार चोर है के नारे के खिलाफ बीजेपी की रणनीति कितनी कारगर होगी ये पता नहीं लेकिन एक बात साफ है कि भाजपा इसके जरिए एक तीर से दो निशाने लगाने की कोशश कर रही है। पहला - विपक्ष (चौकीदार चोर है) को जवाब व दूसरा- 'चायवाले' कैंपेन के बाद 'चौकीदार' कैंपेन के जरिए दोबारा देशभर में मोदी लहर बनाना।

2014 में चायवाले से भाजपा ने शुरू की थी मुहिम-

2014 चुनावों की लड़ाई चाय वाले को लेकर से हुई थी और इस बार लड़ाई चौकीदार से हैं। चायवाले का टैग लेकर पीएम मोदी ने 2014 की में फतह हासिल की तो वहीं कई राज्यों में चुनावी जंग जीती। इस बार सवाल यही हैं कि क्या चाय की चुस्की की जगह चौकीदार की चुस्की चलेगी।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned