औरैया के भाजपा नेताओं की जालौन में दबंगई, पुलिस से की हाथापाई

औरैया के भाजपा नेताओं की जालौन में दबंगई, पुलिस से की हाथापाई
Auraiya Police

Shatrudhan Gupta | Publish: Oct, 27 2017 11:06:04 PM (IST) | Updated: Oct, 27 2017 11:15:45 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

प्रदेश में सत्ता आते ही भाजपाइयों की गुंडई भी दिखने लगी है। आये दिन किसी न किसी मामले में भाजपा कार्यकर्ता सुर्खियों में आ जाते हैं।

जालौन. प्रदेश में सत्ता आते ही भाजपाइयों की गुंडई भी दिखने लगी है। आये दिन किसी न किसी मामले में भाजपा कार्यकर्ता सुर्खियों में आ जाते हैं। ताजा मामला जालौन का है, जहां शंकरपुर चौकी के पास औरैया के भाजपा नेताओं ने चौकी प्रभारी और उनके हमराहियों के साथ हाथपाई करते हुए गाड़ी रोकने के लिए लगाए गए बैरियर को तोड़ दिया। इस घटना के बाद पुलिस ने भाजपा नेताओं को हिरासत में ले लिया और उनके खिलाफ कार्रवाई करते हुए मुकदमा दर्ज किया है।

मामला खनन से जुड़ा हुआ है। बताया गया है कि औरैया जनपद के भाजपा नेता विशाल शुक्ला मध्य प्रदेश इलाके से चोरी छिपे अपने ट्रकों से मौरंग भरकर लाते हैं और उन्हें इटावा और औरैया में बेच देते हंै। शुक्रवार सुबह करीब चार बजे के आसपास विशाल शुक्ला के ट्रक मौरंग भरकर औरैया शंकरपुर चौकी से निकल रहे थे। इन ट्रकों को निकलते देख वहां के चौकी प्रभारी कमल प्रताप ने उन्हें रोक लिया। इसकी जानकारी जब भाजपा नेता विशाल शुक्ला को पता लगी तो वह अपनी गाड़ी से हूटर बजाते हुए चौकी जा पहुंचे और वहां पर लगे पुलिस के बैरियर को तोड़ दिया और ट्रक ले जाने लगे। जब इसे चौकी प्रभारी ने देखा तो उन्हें रोकने का प्रयास किया तो भाजपा नेता ने सत्ता की हनक दिखाते हुए चौकी प्रभारी और उनके हमराहियों को धमकाते हुए उनसे मारपीट शुरू कर दी। सुबह के समय घूमने निकले स्थानीय लोगों ने जब यह देखा तो वह भी मौके पर पहुंच गए और पुलिस का साथ देते हुए उन भाजपा नेताओं को पकड़वा दिया। इस घटना की जानकारी मिलने के बाद कुठौंद थानाध्यक्ष भी मौके पर पहुंचे और भाजपा नेता विशाल शुक्ला और उनके दो अन्य साथियों को थाने ले गए, जहां उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया।

इस मामले में जालौन के पुलिस अधीक्षक अमरेन्द्र प्रताप ने बताया कि मौरंग से भरे ट्रक जा रहे थे, इसकी सूचना पुलिस को मिली तो उन्होंने ट्रक रोक लिए। ट्रक को छुड़ाने के लिए हूटर लगी सफारी गाड़ी से कुछ लोग आये और पुलिस बैरियर को तोड़ दिया, जिसके बाद उन्होंने चौकी प्रभारी से भी अभद्रता की। ग्रामीणों की मदद से उन्हें पकड़ा गया और उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned