औरैया. आज से तीन वर्ष पहले एक नौजवान शिक्षक ब्लाक भग्यनगर के ग्राम जैतपुर में स्थित प्राथमिक विद्यालय में आया तो विद्यालय की हालत देखकर परेशान हो गया। विद्यालय में 114 बच्चे पंजीकृत थे, लेकिन महज 14 या 15 बच्चे ही विद्यालय में आते थे। विद्यालय की भी स्थिति अच्छी नहीं थी। नौजवान शिक्षक ज्ञान प्रकाश ने ऐसा कर दिखाया कि आज वही विद्यालय टॉप पर पहुंच गया है।

ब्लाक भाग्यनगर की ग्राम पंचायत करही का मजरा ग्राम जैतपुर में स्थित प्राथमिक विद्यालय में तैनात प्रधानाध्यापक ज्ञान प्रकाश ने अपनी मेहनत और लगन से स्कूल की दशा और दिशा दोनों ही बदल कर रख दी। नौजवान शिक्षक से हुई बातचीत में उन्होंने बताया कि वह 15 सितम्बर 2015 को विद्यालय में प्रअ का पदभार संभालने की जिम्मेदारी मिली थी। उस समय विद्यालय की स्थिति ठीक नहीं थी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned