पशु चिकित्सालय पर पड़ा ताला, योगी सरकार की खुलेगी पोल !

सूबे में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बन जाने के बाद लोगों को ये उम्मीद जगी थी कि शक्ति अनुशासन एवं अपराधियो के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।

By: Mahendra Pratap

Published: 25 Apr 2018, 02:50 PM IST

Lucknow, Uttar Pradesh, India

औरैया. सूबे में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बन जाने के बाद लोगों को ये उम्मीद जगी थी कि शक्ति अनुशासन एवं अपराधियो के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। अब सभी कर्मचारी एवं अधिकारी समय से आकर लोगो की समस्याओं का निदान करेंगे। मगर कस्बा के अंतर्गत पड़ने वाले पशु चिकित्सालय पर पड़ा ताला योगी सरकार की पोल खोलने के लिए बहुत है कि सरकार के नियम कितने सख्त है। तथा जनता की सरकार को तथा सरकार के जिम्मेदार अधिकारियों को कितनी चिंता है।

झोलाछाप डॉक्टरों की लेनी पड़ती शरण

पशु चिकित्सालय ऐरवा कटरा में ताला लटकता हुआ पाया गया जबकि स्वीपर समेत लगभग चार लोगों का स्टाप पशु चिकित्सालय में मौजूद होना चाहिए। सरकार चाहे भले ही कितना भी खर्चा जनता के प्रति करती हो मगर मौके पर मिली जानकारी के अनुसार प्रतिदिन महीनों से यही रवैया अपनाया जाता है जिससे मजबूर होकर गरीब किसानों को झोलाछाप डॉक्टरों की शरण लेनी पड़ती है जो गरीब जनता को लूटने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं।

डॉक्टर के जाते ही अस्पताल में लग जाता ताला

मौके पर मौजूद कुछ किसानों ने अपना नाम न बताते हुए कहा कि मेरी भेंस को बीती पंद्रह तारीख को कुत्ते ने काट लिया था जिससे में पिछले तीन दिनों से लगातार अस्पताल आ रहा हूं मगर आज तक डॉक्टर साहब तो दूर मुझे कभी अस्पताल का ताला भी खुला हुआ नहीं मिलता है। हमारी सामर्थ ना होने के कारण प्राइवेट इलाज कराने की हिम्मत नहीं हो रही तो वहीं मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि कभी -2 दस पन्द्रह मिनट के लिए अस्पताल खुलता है तथा तुरंत ही डॉक्टर साहब चले जाते है तथा डॉक्टर साहब के जाते ही अस्पताल में ताला डाल दिया जाता है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned