शहरों ने नाम बदलने पर ओमप्रकाश राजभर ने दिया बड़ा बयान, कहा- पहले इन मुस्लिम मंत्रियों के नाम बदलें

शहरों ने नाम बदलने पर ओमप्रकाश राजभर ने दिया बड़ा बयान, कहा- पहले इन मुस्लिम मंत्रियों के नाम बदलें

Abhishek Gupta | Publish: Nov, 10 2018 05:01:21 PM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 05:07:00 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

प्रदेश में जिलों, स्टेडियम व रेलवे जंक्शन के नाम बदले जाने को लेकर जमकर सियासत हो रही है।

लखनऊ. प्रदेश में जिलों, स्टेडियम व रेलवे जंक्शन के नाम बदले जाने को लेकर जमकर सियासत हो रही है। सीएम योगी ने हाल ही फैजाबाद का नाम अयोध्या व उससे पहले इलाहाबाद का नाम प्रयागराज रख कर सियासी गलियारी में हलचल पैदा कर दी है। विपक्ष तो उनके इस कदम को राजनीति से प्रेरित बता ही रहा है वहीं भजपा सरकार के सहयोगी दल व अक्सर भाजपा पर हमलावर रहने वाले उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री व सुभासपा के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने भी सरकार के इस कदम की आलोचना की है। उन्होंने यह तक बोल दिया है मुद्दों से भटकाने के लिए यह सब नाटक है। भाजपा को तो पहले अपने मुस्लिम नेताओं के नाम बदलने चाहिए।

ये भी पढ़ें- अनुपमा जायसवाल ने कर दी धमाकेदार घोषणा, अब बहराइच के साथ इन जिलों के बदले जाएंगे नाम

इन तीन मुस्लिम मंत्रियों के नाम पहले बदले-

एक बयान में उन्होंने शहरों के नाम बदले जाने की वजह बताते हुए कहा है कि भाजपा ने मुगलसराय और फैजाबाद का नाम इसलिए बदला क्योंकि वह मुगल के नाम पर थे। यही नहीं रजभर ने केंद्रिय व यूपी कैबिनेट मंत्रियों - राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी और यूपी मंत्री मोहसिन रजा - के नाम लेते हुए कहा कि उनके पास 3 मुस्लिम चेहरे हैं, पहले उनके नाम बदले जाने चाहिए।

ये भी पढ़ें- भाजपा सांसद ने ही दे दिया सबसे विवादित बयान, कहा राम जन्मभूमि पर श्रीराम नहीं, इनका मंदिर बनना चाहिए, भाजपा में हड़कंप

उन्होंने कहा कि यह सब नाटक है। जब भी पिछड़े और शोषित वर्ग अपने अधिकार मांगने के लिए अपनी आवाज बुलंद करते हैं, तो उनका ध्यान भटकाने के लिए यह नाटक होता है। उन्होंने कहा कि मुस्लिमों ने जो चीजें दी हैं वे किसी और ने नहीं दी हैं। उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि क्या हम जीटी रोड फेंक दें, लाल किला आखिर किसने बनवाया, ताज महल किसने बनवाया।

Ad Block is Banned